Top
Aap Ki Khabar

Ayurvedic Tips -च्यवनप्राश कैसे Immunity Booster जैसा करता है काम

Chywanprash के चांदी अभ्रक और न जाने कितने जड़ी बूटियां Immunity Strong करते हैं और मौसम सर्दी खांसी फर्क भी नही पड़ता है

Ayurvedic Tips -च्यवनप्राश कैसे Immunity Booster जैसा करता है काम
X

Health News Desk -च्यवनप्राश के कई सारे लाभ हैं इसमे मौजूद आयुर्वेदिक तत्व जो जाड़ा गर्मी बरसात मैं हर समय फायदे करते हैं और इसमें उपस्थित चांदी जैसे सिल्वर कहा जाता है अदरक बस और कई ऐसे सारे आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां होती हैं जो इवनिटी को स्ट्रांग करती हैं जिसके कारण व्यक्ति बार-बार बीमार नहीं पड़ता है.

चांदी (Silver), अभ्रक भस्म एवं प्रवाल पिष्टी से युक्त,शुद्ध च्यवनप्राश बनाया जाता है जिसका के सारे लाभ हैं ।

च्यवनप्राश के लाभ(Benefits of Chywanprash)

च्यवनप्राश का सेवन वैसे तो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है, लेकिन खास तौर से सर्दी के दिनों में इसका प्रयोग बेहद लाभदायक होता है। आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया गया च्यवनप्राश कई तरह की बीमारियों से आपको बचाता है, और आपको रखता है सेहतमंद। जानिए च्यवनप्राश के यह फायदे -

1.सर्दी के दिनों में च्यवनप्राश का सेवन करना, शरीर में गर्माहट पैदा कर ठंड के दुष्प्रभावों से बचाता है। इसके अलावा च्यवनप्राश खाने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता(Immunity Booster Dhyaan prasth) में भी वृद्धि होती है और बीमारियां दूर रहती हैं।

2. रोगप्रतिरोधक क्षमता सर्दी, खांसी, फ्लू और कफ हो जाने पर च्यवनप्राश खाना फायदेमंद होता है। सर्दी में प्रतिदिन सुबह और शाम के समय च्यवनप्राश खाने से सर्दी से पैदा होने वाली बीमारियां नहीं होती।

3. पाचन (Indigation)

पाचन से जुड़ी परेशानियों में च्यवनप्राश बहुत फायदेमंद है, इसे रोजाना खाने से पाचन(Digestive System) तंत्र मजबूत होता है।

4. पोषक तत्वों से भरपूर :-च्यवनप्राश में आंवला(Benefits Of Amla in Chywanprash )और अन्य जड़ी बूटियां होती है, जो आपके शरीर को विटामिन और मिनरल्स देता है और इससे आपकी क्रियाशीलता में वृद्धि‍ होती है|

5. बालों के लिए वरदान अगर आपके बाल सफेद हो रहे हैं, तो च्यवनप्राश खाना आपके लिए एक बेहतरीन उपाय है। रोजाना च्यवनप्राश खाना आपके सफेद होते बालों को भी काला करने की क्षमता रखता है। इससे नाखून भी मजबूत होते है,इसके अलावा च्यवनप्राश आपके हीमोग्लोबिन को भी बढ़ाता है।(Chywanprash improves Hemolglobin)

कई लोगों ने twitter पर एक सलाह भी सरकार को दी है की सभी बच्चों को जो आंगनवाड़ी केंद्रों पर पढ़ते हैं उनको और सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को चवनप्राश फ्री में दिया जाना चाहिए जिससे बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास हो सके उनकी इम्युनिटी स्ट्रांग हो सके जिससे कि आयुर्वेद को भी बढ़ावा मिलेगा और बच्चे भी स्वस्थ होंगे जिससे कि उनकी पढ़ाई लिखाई में भी फायदा होगा।



इसी बीच एक और ट्वीट किया गया है जिसमें कहा गया है कि चवनप्राश बनाने की विधि जो है शेयर की जानी चाहिए जिससे सभी लोग चुर्रास्को बना सके और अपने घर में इस्तेमाल कर सके क्योंकि भारतीय परंपरा में बहुत दिनों से बहुत पुराने समय से ही चमनप्राश का उपयोग होता रहा है और उसमें जो भी जड़ी बूटियां रहती हैं उसके कारण से लोग काफी स्वस्थ रहते हैं और जो मौसम बदलने का असर होना चाहिए वह उन पर नहीं होता है क्योंकि मौसम बदलते समय जिस तरीके से एक गर्मी के बाद में सर्दी आती है तो अचानक मौसम बदलते ही लोग बीमार पड़ना शुरू कर देते हैं और उनके सर्दी खांसी बुखार जैसी चीजें होने लगती है लेकिन अगर लोगों की इम्युनिटी स्ट्रांग होगी तो यह बीमारियां नहीं पड़ेंगे.




Next Story
Share it