Top
Aap Ki Khabar

बहुमूल्य है आपकी आंखें इनमे बनी रहे जान daily diet में शामिल करें इसे

आंखों की रोशनी को बरकरार बनाये रखने के लिए इन चीजों का शामिल होना जरूरी जिससे आपकी और आपके बाद भी बनी रहे रोशनी

बहुमूल्य है आपकी आंखें इनमे बनी रहे जान daily diet में शामिल करें इसे
X

Eye care by simple technique image representative only 

गोण्ड़ा /बभनान । आचार्य नरेंद्र देव किसान पीजी कॉलेज बभनान के सैन्य विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ0 एस के पाण्डेय ने एन सी सी दिवस पर लोगों को नेत्रदान करने के फायदे बताएं कि आंखें कुदरत का वह नायाब तोहफा है।जिसे हम दुनिया की रंगीनी,अच्छी-बुरी,सभी चीजों को देखते हैं।आंखें सभी प्राणियों की होती है।लेकिन मनुष्य में इसका अधिक महत्व है।हमारे शरीर की सबसे कोमल अंग आंखें होती हैं।इसलिए इसकी सुरक्षा बहुत ही ज्यादा जरूरी है।आंखों का काम सिर्फ देखना ही नहीं बल्कि देखे हुए संदेश को मस्तिष्क तक पहुंचाना भी होता है।हम सबको आंखों के प्रति सदैव सजग रहना चाहिए।अंधता सबसे अधिक 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को प्रभावित करती हैं।जिसकी वजह से मोतियाबिंद,कालापानी,मधुमेह,संबंधी रेटिनोपैथी जैसी बीमारियां होने की संभावना रहती है।डॉक्टर आंखों की देखभाल करने के लिए ध्यान बढ़ाने की सलाह देते हैं।



नेत्रदान कर दूसरो की जिंदगी में ला सकते हैं उजाला-डॉ0 एस के पांडे

विश्व स्तर पर ब्लाइंडनेस रोकथाम करने के लिए इंटरनेशनल एजेंसी विश्व दृष्टि दिवस भी मनाते हैं।यह दिन हमारे सदस्यों और भागीदारों के लिए रोलिंग विषय के साथ जारी रखने के लिए प्रोत्साहित भी करता है।तथा लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए भी मनाया जाता है।ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग अपनी आंखों का दान कर एक नेत्रहीन के जीवन में दुनिया को देखने का जरिया बने।अपने आहार में और अपने खानपान में हम विभिन्न प्रकार की वस्तुओं को सम्मिलित कर आंखों की रोशनी को ठीक कर सकते हैं।जैसे आहार में आंवला, बदाम,गाजर,हरी पत्तेदार सब्जियां, सूखे मेवों को सम्मिलित कर सकते हैं।

अपने आहार में नियमित तौर पर एक आंवले के इस्तेमाल करने से आंखों की रोशनी दुरुस्त रहती हैं।और आंवले को हम कई रूपों में भी प्रयोग कर सकते हैं । इसका कच्चे रूप में हम सेवन कर सकते हैं या मुरब्बा खा सकते हैं।आंवला आंखों के लिए बेहद लाभदायक होता है।हफ्ते में दो से तीन बार बादाम का दूध इस्तेमाल करने से भी आंखों की सेहत दुरुस्त रहते हैं।बादाम में विटामिन ई होता है जो आंखों को विभिन्न प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।गाजर आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होती है और अगर हम प्रतिदिन एक गिलास गाजर का जूस पीते हैं तो आंखों पर चढ़ा हुआ चश्मा भी उतर सकता है।इसके अलावा नियमित रूप से हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना लाभदायक होता है।आंखों के लिए बहुत जरूरी होता है।अंडा को भी हम अपने आहार का हिस्सा अपना बना सकते हैं जो लोग इसे करते हैं क्योंकि अंडे में मौजूद अमीनो एसिड,प्रोटीन,विटामिन B2 आंखों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए इसके अलावा भी कई सारे उपाय कर सकते हैं। धूम्रपान न करे।

धूम्रपान मोतियाबिंद,तथा तंत्रिका क्षति के साथ-साथ दृष्टि से संबंधित कई तरह की समस्याओं को पैदा कर सकता है।जो आंखों की सुरक्षा के लिए बेहतर है।यदि हमलंबी अवधि तक कंप्यूटर पर काम करते हैं तो निश्चित कर लें कि हम बीच-बीच में उठते रहेंगे लगातार स्क्रीन पर काम नहीं करेंगे और आंखों का सूखापन दूर करने के लिए आंखों को अधिक झपके। टेलीविजन देखते या कंप्यूटर पर कार्य करते हुए चश्मा पहनने की सलाह दी जाती है।मंद प्रकाश में ना पढ़ें आंखों को होने वाली परेशानियों का एक कारण यह भी होता है।

आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखना केवल एक व्यक्ति की ही जिम्मेदारी नहीं बल्कि यह समाज के सामूहिक जिम्मेदारी है।नेत्रदान द्वारा बड़ी संख्या में लोगों को लाभान्वित किया जा सकता है।किसी को बेहतर दृष्टि देने के लिए हम नेत्रदान कर सकते हैं।और उसे जीवन दान दे सकते हैं नेत्रदान महादान।दुनिया में इससे बड़ा दान कुछ नहीं होता है हमें स्वेच्छा से नेत्रदान कर दूसरों के जीवन में खुशहाली लाने के लिए सदा तत्पर रहना चाहिए।

Next Story
Share it