Top
Aap Ki Khabar

काश्मीर के पुलवामा से China को बड़ा नुकसान ,अब इस Industry में No Entry

चिनार की लकड़ियों से पेंसिल का खोल बनाने का काम पुलवामा में किया जाता है यही पहले china से मंगाया जाता था

काश्मीर के पुलवामा से China को बड़ा नुकसान ,अब इस Industry में No Entry
X

Pulwama is contributing 90%of the pencil fillers  supply 

National News Desk -आज पुलवामा देश को पढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।कश्मीर घाटी देश की 90% Pencil लकड़ी की मांग को पूरा करती है और उसमें बड़ी हिस्सेदारी पुलवामा की है।पहले विदेशों से Pencil की लकड़ी मंगवाते थे, लेकिन अब हमारा पुलवामा इस क्षेत्र को आत्मनिर्भर बना रहा है।

मन की बात में बोलते हुए Primeminister Narendra Modi ने कहा कि आज देश बदल रहा है और आज technology से काम कर रही है ।

Primeminister Modi ने कहा कि पहले पेंसिल की लकड़ी विदेशों से मंगाई जाती थी अब यह देश मे ही बनाई जा रही है ।पुलवामा में करीब 16 यूनिट काम कर रही हैं और पेंसिल स्लेट बनाने का काम।कर रही है पहले यही पेंसिल स्लेट china से आता था अब भारत मे ही बनने लगा जिससे 100 करोड़ का करीब कारोबार भी हो रहा है ।



इस व्यवसाय को शुरू करने वाले पहले सेब के बॉक्स लकड़ी के बनाने

का काम करते थे लेकिन उन्होंने पेंसिल बनाने वाली फैक्ट्री में बात की और सप्लाई करने का काम किया और आज कारोबार उनका बढ़ गया ।

पुलवामा को अब Geo Tagging भी दी जा रही है जिससे Global lavel पर पुलवामा Pencil Slate Industry के नाम से जाना जाएगा ।





Next Story
Share it