अखंड भारत का सपना, जल्द होगा साकार : मोहन भागवत

अखंड भारत का सपना, जल्द होगा साकार : मोहन भागवत
अखंड भारत का सपना, जल्द होगा साकार : मोहन भागवत अमरावती, 28 अप्रैल (आईएएनएस)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा है कि सारे देश के लोगों को यह बात खलती है कि हम अधूरे रह गए ( भारत के विभाजन के संदर्भ में ) और इसलिए अखंड भारत का सपना जल्द साकार होगा।

अमरावती में आयोजित सिंधी समाज के विश्व आराध्य संत, अमर शहीद संत कंवरराम साहिबजी की पावन गद्दी पर साईंजी के वंशज साईं राजेशलाल साहिबजी के गरिमामय गद्दीनशीनी समारोह की भव्य शुरूआत करते हुए मोहन भगवत ने कहा कि हर बात के लिए सरकार की ओर नहीं देखना चाहिए, बल्कि पूरे समाज को एकजुट होकर उसके लिए प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब संत और समाज एक साथ आ जाएगा तो सरकार को उनके पीछे चलना ही होगा।

महाराष्ट्र के अमरावती में हुए सिंधी समाज के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में प्रख्यात चिंतक, लेखक, समाजसेवी एवं उद्यमी संजय शेरपुरिया द्वारा पाकिस्तान में रह रहे हिंदुओ की पीड़ा पर लिखी गई पुस्तक मैं माधोभाई, एक पाकिस्तानी हिंदू का लोकार्पण करते हुए संघ प्रमुख मोहन भागवत ने पाकिस्तान में रह रहे हिंदुओं और पाकिस्तान से भारत आने वाले हिंदुओं की पीड़ा को आवाज देते हुए कहा कि सिंधी समाज के लोग गंवा कर नहीं बल्कि सब कुछ छोड़ कर आए हैं और एक दिन भारत फिर से अखंड जरूर होगा।

संघ प्रमुख ने अपनी संस्कृति, भाषा और धरोहर की रक्षा करने की शुरूआत परिवार से करने की वकालत करने के लिए कंचन राय की सराहना करते हुए कहा कि जो भी कार्य प्रारंभ होता है, वह कभी न कभी अवश्य पूरा होता है।

आपको बता दें कि, मैं माधोभाई, एक पाकिस्तानी हिंदू पुस्तक पाकिस्तान में रह रहे हिंदुओं की पीड़ा का जीता जागता चित्रण है। भारत विभाजन की त्रासदी को झेलते हुए पिछले 7 दशकों से पाकिस्तान में , हिंदुओं के साथ जिस तरह का बुरा बर्ताव किया गया है उसके बारे में वर्षों तक शोध करने के बाद संजय शेरपुरिया ने यह पुस्तक लिखी है। यह पुस्तक पाकिस्तान के हिंदुओं के साथ किए गए दुर्व्यवहार की सत्य गाथा है।

भारत विभाजन की त्रासदी झेलने वाले सिंधी समाज की वीरता, धैर्य और उनकी सकारात्मक विकास यात्रा पर प्रकाश डालते हुए ज्योर्तिमठ पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वतीजी महाराज ने हिंदुओं की आशाओं और भावनाओं के जल्द पूरा होने की बात कहते हुए अखंड भारत की भविष्यवाणी भी की।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत, ज्योर्तिमठ पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वतीजी महाराज और श्रीनाथ पीठाधीश्वर स्वामी जितेंद्रनाथ जी महाराज के अलावा देश विदेश की पंचायतों, अखाड़ों और पीठों के अनेक संतों और इंदौर से भाजपा के लोक सभा सांसद शंकर लालवानी ने कार्यक्रम में शामिल होकर सनातन हिंदू धर्म, भारत विभाजन और सिंधी समाज को लेकर अपनी-अपनी बातें कही।

--आईएएनएस

एसटीपी/एएनएम

Share this story