अमरावती केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या मामले में एनआईए की 11वीं गिरफ्तारी

अमरावती केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या मामले में एनआईए की 11वीं गिरफ्तारी
अमरावती केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या मामले में एनआईए की 11वीं गिरफ्तारी नई दिल्ली, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने महाराष्ट्र के अमरावती में एक केमिस्ट की दुकान के मालिक 54 वर्षीय उमेश कोल्हे की निर्मम हत्या के मामले में 11वें आरोपी को गिरफ्तार किया है। कोल्हे की निलंबित बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा का समर्थन करने के लिए हत्या कर दी गई थी।

आरोपी की पहचान शैम अहमद उर्फ शाहिम उर्फ मथे के रूप में हुई है और उसे कोल्हे की हत्या के पीछे की साजिश में उसकी सक्रिय भूमिका के लिए गिरफ्तार किया गया है।

एनआईए ने उसकी गिरफ्तारी के लिए किसी भी सूचना के लिए दो लाख रुपये का इनाम घोषित किया था।

हत्या 21 जून को हुई थी। पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि शर्मा का समर्थन करने के लिए कोल्हे की हत्या की गई थी।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, फेसबुक पर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट लिखने के बाद महाराष्ट्र में कोल्हे की हत्या कर दी गई थी। वह अमरावती में अमित मेडिकल स्टोर के नाम से केमिस्ट की दुकान चलाता था।

इस मामले में उनके बेटे संकेत कोल्हे ने अमरावती के शहर कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करने के बाद 22 वर्षीय मुदसिर अहमद और 25 वर्षीय शाहरुख पठान को 23 जून को गिरफ्तार किया था।

बाद में, पुलिस ने 25 जून को तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया था, जिनकी पहचान 24 वर्षीय अब्दुल तौफिक, 22 वर्षीय शोएब खान और 22 वर्षीय अतीब राशिद के रूप में हुई। एक शमीम अहमद फिरोज अहमद फरार है।

एक अधिकारी ने कहा, कोल्हे ने एक व्हाट्सएप ग्रुप पर एक संदेश पोस्ट किया जिसमें मुस्लिम जो उनके ग्राहक थे, वे भी सदस्य थे। उन्हें नूपुर का समर्थन पसंद नहीं आया और उन्होंने उसे मार डाला।

कोल्हे अपनी बाइक पर लौट रहे थे, जब उनकी पत्नी और बेटा स्कूटर पर यात्रा कर रहे थे, तभी उन पर हमला किया गया और उनकी हत्या कर दी गई।

मामले में आगे की जांच की जा रही है।

--आईएएनएस

आरएचए/

Share this story