आवाज दबाने की सरकार की कोशिश के खिलाफ लड़ते रहेंगे : राहुल गांधी

आवाज दबाने की सरकार की कोशिश के खिलाफ लड़ते रहेंगे : राहुल गांधी
आवाज दबाने की सरकार की कोशिश के खिलाफ लड़ते रहेंगे : राहुल गांधी नई दिल्ली, 2 अगस्त (आईएएनएस)। देश में बढ़ती महंगाई अन्य मुद्दों पर कांग्रेस लगातार बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही है। इसी बीच राहुल गांधी ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि सरकार लोगों की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है, इसके खिलाफ हम लड़ते रहेंगे।

राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर जनता के नाम एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा, खुद को अकेला मत समझना, कांग्रेस आपकी आवाज है, और आप कांग्रेस की ताकत, तानाशाह के हर फरमान से, जनता की आवाज दबाने की हर कोशिश से हमें लड़ना है। आपके लिए, मैं और कांग्रेस पार्टी लड़ते आ रहे हैं, और आगे भी लड़ेंगे। आज देश में किन मुद्दों पर विचार-विमर्श होना चाहिए, ये आप अच्छे से जानते हैं क्योंकि सरकार की हर गलत नीति का असर आपके जीवन पर पड़ रहा है।

इस मानसून सत्र में हम सरकार से जनता के सवालों के जवाब मांगना चाह रहे थे, लेकिन आप सब ने देखा कैसे सरकार ने विपक्ष के लोगों को निलंबित करवाया, हमारे द्वारा विरोध करने पर हमें गिऱफ्तार करवाया, सदन स्थगित करवाया, और कल जब चर्चा हुई भी तो सरकार ने साफ कहा कि महंगाई जैसी कोई समस्या है ही नहीं।

उन्होंने आगे कहा, देश बेरोजगारी की महामारी से जूझ रहा है, करोड़ों परिवारों के पास स्थिर आय का कोई साधन नहीं बचा। लेकिन सरकार सिर्फ एक अहंकारी राजा की छवि चमकाने में अरबों रुपए फूंक रही है। महंगाई और गब्बर सिंह टैक्स आम आदमी की आय पर सीधा प्रहार है। आज की वास्तविकता ये है कि आम इंसान अपने सपनों के लिए नहीं बल्कि 2 वक्त की रोटी के लिए संघर्ष कर रहा है।

ये सरकार चाहती है आप बिना सवाल किए तानाशाह की हर बात को स्वीकार करें। मैं आप सबको विश्वास दिलाता हूं, इनसे डरने की और तानाशाही सहने की जरुरत नहीं है। ये डरपोक हैं, आपकी ताकत और एकता से डरते हैं, इसलिए उसपर लगातार हमला कर रहे हैं। अगर आप एकजुट हो कर इनका सामना करोगे, तो ये डर जाएंगे। मेरा आपसे वादा है, न हम डरेंगे और न इन्हें डराने देंगे।

दरअसल लोकसभा में महंगाई पर चर्चा के दौरान केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि, सरकार बेहद गंभीर है, और कीमतों पर लगाम लगाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। पूरी दुनिया के मुकाबले भारत में महंगाई बेहतर स्थिति में है। वहीं सरकार की कोशिश है कि महंगाई दर को 7 फीसदी से नीचे रखा जाए, और सरकार इसमें कामयाबी रही है।

इससे पहले मॉनसून सत्र में लगातार विपक्ष महंगाई पर चर्चा करने की बात कर रहा है इसको लेकर तमाम प्रदर्शन भी हुए जिसमें विभिन्न राजनीतिक पार्टियों ने केंद्र सरकार पर हमला बोला और तमाम मुद्दों को उठाने की अपील भी की।

--आईएएनएस

एमएसके/एसकेपी

Share this story