एक नहीं 100 मुकदमे दर्ज हो, डरूंगा नहीं, केजरीवाल खुद डरे हुए : तेजिंदर बग्गा

एक नहीं 100 मुकदमे दर्ज हो, डरूंगा नहीं, केजरीवाल खुद डरे हुए : तेजिंदर बग्गा
एक नहीं 100 मुकदमे दर्ज हो, डरूंगा नहीं, केजरीवाल खुद डरे हुए : तेजिंदर बग्गा नई दिल्ली, 8 मई (आईएएनएस)। बीजेपी नेता तेजिंदर बग्गा को लेकर जमकर सियासी घमासान के बीच पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर 10 मई तक रोक लगा दी है। इसके बाद बग्गा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर वीडियो जारी कर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, मैं धन्यवाद करता हूं पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट का, अल्पसंख्यक आयोग का जिन्होंने यह दर्शाया है कि इस देश में कानून का राज है। यदि अरविंद केजरीवाल सोचते हैं कि सत्ता और पुलिस के बल पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को डरा और झुका सकते हैं तो वह एक नहीं सौ मुकदमे दर्ज करा दीजिए।

अरविंद केजरीवाल ने अपने प्रवक्ताओं और पंजाब के मंत्रियों को मेरे खिलाफ उतार दिया। यह दर्शाता है कि वह बहुत डरे हुए हैं और आपको नींद नहीं आ रही है। मैं राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग का धन्यवाद देता हूं जिन्होंने पगड़ी ना पहनने के मामले पर पंजाब सरकार से सवाल पूछा है और मुझे यकीन है अल्पसंख्यक आयोग के नोटिस के बाद दोषियों को सजा दी जाएगी।

उन्होने उस दिन का जिक्र करते हुए बताया कि, मैंने पंजाब पुलिस को बार-बार कहा था कि नंगे सिर बाहर नहीं जाया जाता है, मैंने उनसे ढकने की इजाजत मांगी, लेकिन मुझसे कहा गया कि सिर तेरा पंजाब में जाकर ढंकवाया जाएगा। वहीं पंजाब पुलिस की एक महिला कर्मी ने अपने साथियों को कहा था कि सिर ढकने दीजिए लेकिन किसी ने नहीं सुनी।

दरअसल पंजाब पुलिस ने भड़काऊ भाषण देने, दुश्मनी को बढ़ावा देने और आपराधिक धमकी देने के आरोप में तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। बग्गा के खिलाफ मोहाली निवासी आम आदमी पार्टी की नेता सनी अहलूवालिया ने शिकायत दर्ज कराई थी।

मुकदमा दर्ज होने के बाद, पंजाब पुलिस ने बग्गा को गिरफ्तार किया, जिसके बाद देखते ही देखते मामले ने तूल पकड़ लिया और दिल्ली में पंजाब पुलिस के खिलाफ उनके पिता ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया।

--आईएएनएस

एमएसके/एसकेपी

Share this story