ओडिशा भाजपा ने पीएमएवाई के लिए लाभार्थियों के चयन में अनियमितता का आरोप लगाया

ओडिशा भाजपा ने पीएमएवाई के लिए लाभार्थियों के चयन में अनियमितता का आरोप लगाया
भुवनेश्वर, 25 जनवरी (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) को लेकर ओडिशा की बीजद सरकार पर हमला तेज करते हुए भाजपा ने मंगलवार को आरोप लगाया कि करीब दो लाख पात्र लोगों को लाभार्थियों की सूची से बाहर कर दिया गया है, जबकि सत्तारूढ़ दल के समर्थकों के नाम साजिश के तहत शामिल किए गए हैं।

भाजपा के राज्य महासचिव पृथ्वीराज हरिचंदन ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार द्वारा प्रकाशित सूची में कई अपात्र लोगों को पीएमएवाई लाभार्थी के रूप में नामित किया गया है।

उन्होंने कहा, दूसरी ओर, लगभग 2 लाख पात्र लोग पीएमएवाई के तहत एक घर पाने के लिए इंतजार कर रहे हैं। लोगों को योजना के तहत एक पक्का घर नहीं मिल सकता, क्योंकि कोई नहीं जानता कि अगला आवंटन कब होगा, घरों को मंजूरी दी जाएगी या नहीं।

यह कहते हुए कि भाजपा बीजद सरकार को किसी भी पात्र व्यक्ति को पीएमएवाई के तहत आवास प्राप्त करने से वंचित नहीं रखने देगी। उन्होंने कहा कि सभी पात्र लोगों के नाम लाभार्थियों की सूची में शामिल किए जाने चाहिए। इसी तरह, जो लोग पात्र नहीं हैं, उनके नाम हटा दिए जाने चाहिए।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी 25 जनवरी को सभी 314 ब्लॉक कार्यालयों में मुख्यमंत्रियों के लिए चेतावनी पत्र जमा करेगी। यदि राज्य सरकार अपात्र लोगों को सूची में शामिल करने के लिए आगे बढ़ती है, तो भाजपा आंदोलन तेज करेगी। उन्होंने चेतावनी दी कि राज्यभर में आंदोलन होगा।

इस आरोप पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेडी नेता देबी प्रसाद मिश्रा ने कहा, राज्य सरकार ने लाभार्थियों के चयन के लिए एक मजबूत प्रणाली अपनाई है। अगर बीजेपी दावा कर रही है कि 2 लाख पात्र लोगों को सूची से बाहर कर दिया गया है, तो उन्हें उन 2 लाख अपात्र व्यक्तियों के नाम प्रकाशित करने चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा को सस्ता राजनीतिक लाभ लेने के लिए बड़े आरोप नहीं लगाने चाहिए।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story