ओडिशा में भारी बारिश, छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश के लिए भी अलर्ट जारी

ओडिशा में भारी बारिश, छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश के लिए भी अलर्ट जारी
ओडिशा में भारी बारिश, छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश के लिए भी अलर्ट जारी नई दिल्ली, 13 सितम्बर (आईएएनएस)। उत्तर पश्चिमी बंगाल की खाड़ी और उससे सटे ओडिशा तट पर दबाव के चलते सोमवार तड़के गहरे दबाव में बदल गया जिसकी वजह से ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश दर्ज की गई। आईएमडी ने कहा कि ओडिशा, उत्तरी छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में अगले 48 घंटों के दौरान भारी बारिश होने की संभावना है।

ओडिशा के पुरी जिले में, दो स्थानों - अस्टारंगा और काकतपुर में पिछले 24 घंटों में 500 मिमी से अधिक बारिश दर्ज हुई है, साथ ही तीन दर्जन से अधिक अन्य स्थानों पर 100 मिमी, 200 और यहां तक कि 400 मिमी से अधिक बारिश हुई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सुबह 10 बजे कहा, बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी और उससे सटे ओडिशा तट पर दबाव पिछले छह घंटों के दौरान 12 किमी प्रति घंटे की गति से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा और यह एक गहरे दबाव में बदल गया और यह सोमवार को सुबह 8.30 बजे उत्तरी तटीय ओडिशा तट पर लगभग 20 किलोमीटर पर केंद्रित हो गया।

आईएमडी ने कहा, अगले 48 घंटों के दौरान उत्तर ओडिशा, उत्तरी छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में पश्चिम-उत्तर पश्चिम वाडरें की ओर बढ़ने की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान इसके कमजोर पड़ने की भी संभावना जताई गई है।

आईएमडी ने सोमवार को ओडिशा और छत्तीसगढ़ में कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम और अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी दी है।

उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड और तेलंगाना में सोमवार को और मध्य प्रदेश में मंगलवार तक कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना जताई गई है।

दक्षिण गुजरात, उत्तरी कोंकण, उत्तरी महाराष्ट्र (विदर्भ सहित) में सोमवार और मंगलवार को अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा के साथ छिटपुट स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

अगले 12 घंटों के दौरान उत्तर और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटों पर 50-60 किमी प्रति घंटे से 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि अगले 12 घंटों के दौरान हवा की गति धीरे-धीरे घटकर 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 60 किमी प्रति घंटे हो जाएगी।

मौसम विभाग ने मछुआरों को सलाह दी है कि वे अगले 12 घंटों के दौरान उत्तर और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटों पर न जाएं।

पुरी, जगतसिंहपुर, कटक, खुर्दा, केंद्रपाड़ा, सोनपुर, बौध, नयागढ़, कंधमाल, जाजपुर, संबलपुर और झारसुगुड़ा जिलों से सोमवार सुबह 8.30 बजे समाप्त हुए पिछले 24 घंटों में हुई प्रमुख वर्षा का विवरण इस प्रकार है :

अस्तरंग - 530.0 मिमी, काकटपुर - 525.0 मिमी, बालिकुडा - 440.0 मिमी, कांटापाड़ा - 381.0 मिमी, नियाली - 370.0 मिमी, पुरी - 342.5 मिमी, गोप - 331.0 मिमी, रघुनाथपुर - 323.0 मिमी, बालीपटना - 280.5 मिमी, केंद्रपाड़ा - 276.0 मिमी और मार्शघई में 270.0 मिमी बारिश दर्ज की गई।

--आईएएनएस

साकिब/आरजेएस

Share this story