ओडेसा में मिसाइलों के हमले से वैश्विक खाद्य की कमी का खतरा

ओडेसा में मिसाइलों के हमले से वैश्विक खाद्य की कमी का खतरा
ओडेसा में मिसाइलों के हमले से वैश्विक खाद्य की कमी का खतरा ओडेसा (यूक्रेन), 10 मई (आईएएनएस)। यूक्रेन के ओडेसा बंदरगाह पर मिसाइल हमले किए गए हैं। यूक्रेन के बलों का कहना है कि एक शॉपिंग सेंटर और एक डिपो पर हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और पांच घायल हो गए।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राष्ट्रपति जेलेंस्की ने चेतावनी दी है कि रूस द्वारा उनके देश के काला सागर बंदरगाहों की नाकेबंदी से वैश्विक खाद्य आपूर्ति को खतरा है।

यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल, (जिन्हें ओडेसा का दौरा करने के लिए शरण लेने के लिए मजबूर किया गया था) ने चेतावनी दी कि बुरी तरह से आवश्यक आपूर्ति अटकी हुई है।

यूक्रेन के काला सागर बंदरगाहों की रूस की नाकाबंदी के बाद यूक्रेन और यूरोपीय संघ ने अनाज निर्यात के लिए यूक्रेन के बंदरगाहों को अनब्लॉक करने के लिए तत्काल उपाय करने पर चर्चा की है, जिससे उसके अनाज निर्यातकों को अपने माल को स्थानांतरित करने के लिए विकल्प तलाशने के लिए मजबूर किया गया है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने कहा कि उन्होंने ओडेसा की अपनी यात्रा पर यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल के साथ बातचीत के दौरान रूस के हमलों से उत्पन्न वैश्विक खाद्य संकट को रोकने पर चर्चा की।

मिशेल ने कहा, ओडेसा के बंदरगाह में, मैंने अनाज, गेहूं और मकई से भरे साइलो को निर्यात के लिए तैयार देखा।

उन्होंने कहा, रूसी युद्ध और काला सागर बंदरगाहों की नाकाबंदी के कारण कमजोर देशों के लिए नाटकीय परिणाम के कारण यह बुरी तरह से आवश्यक भोजन फंस गया है। हमें वैश्विक प्रतिक्रिया की आवश्यकता है।

--आईएएनएस

एचके/एसकेपी

Share this story