कर्नाटक के गृह मंत्री ने कांग्रेस से कोविड के खतरे को रोकने में सहयोग करने का आग्रह किया

कर्नाटक के गृह मंत्री ने कांग्रेस से कोविड के खतरे को रोकने में सहयोग करने का आग्रह किया
कर्नाटक के गृह मंत्री ने कांग्रेस से कोविड के खतरे को रोकने में सहयोग करने का आग्रह किया बेंगलुरु, 8 जनवरी (आईएएनएस)। मेकेदातु परियोजना के लिए कांग्रेस की प्रस्तावित पदयात्रा के बाद कर्नाटक के गृह मंत्री अरगा ज्ञानेंद्र ने शनिवार को राज्य में कोविड-19 के खतरे को नियंत्रित करने के लिए विपक्षी कांग्रेस पार्टी के नेताओं से सहयोग मांगा।

मेकेदातु परियोजना को लागू करने की मांग को लेकर नौ जनवरी को पदयात्रा की तैयारी की पृष्ठभूमि में कांग्रेस द्वारा इस संबंध में एक बयान जारी किया गया है।

हालांकि गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने पदयात्रा आयोजित करने पर अपना अडिग रुख जारी रखा है। इसने तैयारी शुरू कर दी है और घोषणा की है कि रविवार को पदयात्रा शुरू होगी।

राज्य में कोविड के प्रसार को रोकने के लिए सरकार द्वारा कड़े कदम उठाए गए हैं। मेकेदातु प्रोजेक्ट का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं के पास सरकार चलाने का अनुभव है, इसलिए उन्हें जिम्मेदारी से व्यवहार करना चाहिए।

भाजपा नेतहा ने कहा कि स्थिति हाथ से बाहर जाने से पहले सावधानी बरतना और समस्याओं को रोकना हमेशा बेहतर होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की पदयात्रा राजनीति से प्रेरित है।

उन्होंने पुलिस कर्मियों से लोगों के साथ सौहार्दपूर्ण व्यवहार करने की अपील की और साथ ही हिदायत दी है कि लोगों को भी उनका सहयोग करना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि उल्लंघन करने वालों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।

इस बीच, कर्नाटक राज्य कांग्रेस अध्यक्ष डी. के. शिवकुमार ने रामनगर जिले के कनकपुर में अपने परिवार के सदस्यों के साथ अपने परिवार के देवता की विशेष पूजा की और मेकेदातु परियोजना पर पदयात्रा की सफलता के लिए प्रार्थना की।

विशेष पूजा समारोह के बाद शिवकुमार ने कहा कि मेकेदातु परियोजना के लिए पदयात्रा नौ जनवरी से शुरू हो रही है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Share this story