कर्नाटक सरकार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मेकेदातु पदयात्रा में हिस्सा लेने से रोकेगी

कर्नाटक सरकार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मेकेदातु पदयात्रा में हिस्सा लेने से रोकेगी
कर्नाटक सरकार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मेकेदातु पदयात्रा में हिस्सा लेने से रोकेगी बेंगलुरु, 8 जनवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक सरकार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मेकेदातु पहुंचने से पहले कनकपुरा सीमा पर रोकने की योजना बना रही है।

इस मुद्दे पर सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्षी कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। पुलिस विभाग ने स्थिति को संभालने के लिए पूरे रामनगर जिले में बैरिकेड्स लगा दिए हैं और 2,000 पुलिस कर्मियों को तैनात किया है।

रामनगर जिला प्रशासन ने पूरे जिले में निषेधाज्ञा लागू कर दी है। कांग्रेस नेताओं के अनुसार, आसपास के जिलों से हजारों कार्यकर्ताओं के पदयात्रा में भाग लेने की उम्मीद है। लेकिन राज्य सरकार की योजना इन्हें मेकेदातु पदयात्रा में भाग लेने से रोकने की है।

पुलिस विभाग के सूत्रों ने बताया कि आरक्षित बल और अतिरिक्त स्टाफ को तैयार रखा गया है और वे पदयात्रा में भाग लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने को भी तैयार हैं। इस संबंध में सरकार के निर्देश का इंतजार किया जा रहा है।

दूसरी ओर, कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि अगर सरकार दमनात्मक कार्रवाई का सहारा लेती है, तो यह उनके लिए अच्छा होगा क्योंकि इससे राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा की छवि खराब होगी।

पुलिस अधिकारियों ने इस मामले में सरकार की ओर से सीधे आदेश आने तक स्थिति के अनुसार कार्रवाई करने का फैसला किया है।

उधर कांग्रेस ने मेकेदातु पदयात्रा की तैयारी शुरू कर दी है और मार्ग के किनारे स्कूली मैदानों में कार्यकर्ताओं के लिए खाना पकाने और आश्रय की व्यवस्था की है।

मेकेदातु मामले पर पदयात्रा 9 जनवरी से शुरू होकर 19 जनवरी को समाप्त होगी।

--आईएएनएस

जेके

Share this story