कांग्रेस, भाकपा व वीसीके तमिलनाडु के राज्यपाल की ओर से आयोजित समारोह का करेंगे बहिष्कार, द्रमुक भाग लेगी

कांग्रेस, भाकपा व वीसीके तमिलनाडु के राज्यपाल की ओर से आयोजित समारोह का करेंगे बहिष्कार, द्रमुक भाग लेगी
चेन्नई, 26 जनवरी (आईएएनएस)। कांग्रेस, भाकपा, वीसीके और टीवीके ने घोषणा की है कि वे तमिलनाडु के राज्यपाल आर.एन. रवि द्वारा गणतंत्र दिवस के मौके पर राजभवन में आयोजित एट होम रिसेप्शन का बहिष्कार करेंगे। लेकिन राज्य की सत्ताधारी डीएमके ने कार्यक्रम में शामिल होने की पुष्टि की है।

डीएमके के सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि राज्यपाल ने मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन को बुधवार देर शाम फोन पर रिसेप्शन पर आमंत्रित किया। इससे दोनों के बीच गतिरोध खत्म हो गया।

बजट सत्र के उद्घाटन समारोह के दौरान राज्य विधान सभा से बाहर चले जाने के बाद स्टालिन और रवि के बीच कोई संवाद नहीं था।

सूत्रों ने कहा कि राज्यपाल ने अपने सचिव आनंदराव वी. पाटिल को मुख्यमंत्री से मिलने और निमंत्रण सौंपने के लिए नियुक्त किया।

इस बीच कांग्रेस नेता सेल्वापेरुनथगाई ने मीडियाकर्मियों से कहा कि वह और उनकी पार्टी के विधायक समारोह का बहिष्कार करेंगे।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं और समानांतर सरकार चला रहे हैं।

सेल्वापेरुन्थगाई ने कहा कि राज्यपाल जानबूझकर राज्य विधानसभा में महत्वपूर्ण विधानों पर अपनी सहमति देने में देरी कर रहे थे।

कार्यक्रम का बहिष्कार करने के पार्टी के फैसले के बारे में, टीवीके नेता टी. वेलमुरुगन ने कहा कि विधानसभा द्वारा पारित कई विधेयकों को मंजूरी देने में देरी कर राज्यपाल तमिलनाडु सरकार और उसके लोगों का अपमान कर रहे हैं।

इसी तरह की टिप्पणी करते हुए भाकपा के राज्य सचिव आर. मुथरासन ने कहा कि रवि राज्य में राज्यपाल के बजाय आरएसएस प्रमुख के रूप में काम कर रहे हैं।

वीसीके नेता थोल थिरुमावलवन ने भी पुष्टि की कि उनकी पार्टी रिसेप्शन का बहिष्कार करेगी।

--आईएएनएस

सीबीटी

Share this story