किरण मजूमदार-शॉ पर बीजेपी का फिर निशाना

किरण मजूमदार-शॉ पर बीजेपी का फिर निशाना
किरण मजूमदार-शॉ पर बीजेपी का फिर निशाना नई दिल्ली, 2 मई (आईएएनएस)। भाजपा ने एक बार फिर बायोकॉन की चेयरपर्सन किरण मजूमदार-शॉ पर निशाना साधा है और कहा कि वह स्कूल के उस फरमान पर अपनी राय दें, जिसमें छात्रों को बाइबिल ले जाने के लिए कहा गया।

कर्नाटक में सरकार ने सबसे बड़ी सेमीकंडक्टर फैब्रिकेशन यूनिट स्थापित करने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किया है। भाजपा ने इस मौके पर शॉ पर वार किया।

कर्नाटक के उद्योग और वाणिज्य विभाग ने कहा, कर्नाटक में जल्द ही भारत का पहला और सबसे बड़ा सेमीकंडक्टर फैब्रिकेशन यूनिट होगा। आईएसएमसी ने इस प्रोजेक्ट में 22,900 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की है। यह राज्य के लिए एक गर्व की बात है।

रविवार की देर शाम, बीजेपी के राष्ट्रीय सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के प्रभारी अमित मालवीय ने कहा, किरण मजूमदार या उनकी तरह के अन्य लोग, जो कर्नाटक में भाजपा सरकार को भाषण दे रहे थे, क्या उनमें से किसी ने क्लेरेंस स्कूल के उस फरमान के खिलाफ आवाज उठाई जिसमें छात्रों को बाइबल ले जाने के लिए कहा गया था।

30 मार्च को किसी समूह द्वारा कर्नाटक में मुस्लिम व्यापारियों के बहिष्कार के आह्वान के बीच, शॉ ने ट्वीट किया था, कर्नाटक में हमेशा आर्थिक विकास समावेशी रहा है और हमें बिल्कुल भी सांप्रदायिक बहिष्कार को मंजूरी नहीं देनी चाहिए। अगर आईटीबीटी (इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और बायोटेक सेक्टर) सेक्टर में सांप्रदायिक आधार पर विभाजन पैदा हो गया तो ग्लोबल लीडरशिप नष्ट हो जाएगी। सीएम बसवराज बोम्मई कृप्या धार्मिक तौर पर इस तरह बांटने की कोशिश को विफल करें।

इसके बाद अमित मालवीय ने बायोकॉन के चेयरपर्सन पर पलटवार करते हुए कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि किरण शॉ जैसे लोग अपनी व्यक्तिगत, राजनीतिक रूप से बिना सोचे-समझी राय थोपते हैं, और इसे आईटीबीटी क्षेत्र में भारत के नेतृत्व के साथ मिलाते हैं। राहुल बजाज ने कभी गुजरात के लिए भी कुछ ऐसा ही कहा था, आज यह एक प्रमुख ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्च रिंग हब है। जाओ पता लगाओ।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

Share this story