केंद्र ने ओडिशा में रसगोबिंदपुर हवाई पट्टी के निर्माण की अनुमति दी

केंद्र ने ओडिशा में रसगोबिंदपुर हवाई पट्टी के निर्माण की अनुमति दी
केंद्र ने ओडिशा में रसगोबिंदपुर हवाई पट्टी के निर्माण की अनुमति दी भुवनेश्वर, 22 नवंबर (आईएएनएस)। रक्षा मंत्रालय (एमओडी) ने ओडिशा के मयूरभंज जिले में अमरदा रोड के पास रासगोविंदपुर में हवाई पट्टी के विकास करने के लिए काम करने की अनुमति दे दी है।

एमओडी ने ओडिशा के मुख्य सचिव एस.सी. महापात्रा को लिखे पत्र में कहा- भारत की राष्ट्रपति ने मयूरभंज जिले के अमरदा रोड में 160.35 एकड़ की रक्षा भूमि पर ओडिशा सरकार को मयूरभंज जिले में अमरदा रोड के पास रासगोविंदपुर में हवाई पट्टी के विकास के लिए रक्षा भूमि के एवज में 26,03,10,4381 रुपये की नकद मुआवजा राशि के आधार पर काम करने की अनुमति दी है।

गौरतलब है कि हवाई पट्टी की जमीन रक्षा मंत्रालय के अधीन रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की है। फरवरी में, महापात्रा ने तत्कालीन रक्षा सचिव अजय कुमार को हवाई पट्टी से वाणिज्यिक उड़ान संचालन शुरू करने के लिए डीआरडीओ से अनापत्ति प्रमाण पत्र मांगा था।

मंत्रालय ने ओडिशा सरकार के अनुरोध के बाद कुछ शर्तों के साथ अनुमति दी है। राज्य रक्षा भूमि का उपयोग केवल उस कार्य के लिए कर सकता है जिस पर काम करने की अनुमति दी जा रही है और कोई अन्य उद्देश्य के लिए नहीं। राज्य सरकार ने रक्षा मंत्रालय से अनुमति मांगी थी क्योंकि उसने आरसीएस-उड़ान योजना के तहत रसगोबिंदपुर के पास अमरदा रोड हवाई पट्टी को चालू करने की योजना बनाई है।

एक बार चालू हो जाने के बाद, हवाई पट्टी सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान, कुलडीहा अभयारण्य और चांदीपुर और तलसारी समुद्र तट जैसे महत्वपूर्ण स्थानों के लिए पर्यटन कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करेगी, व्यापार के माध्यम से आर्थिक विकास की सुविधा प्रदान करेगी, रोजगार प्रदान करेगी, करों से राजस्व में वृद्धि करेगी और पड़ोसी राज्यों और समुदायों के साथ सामुदायिक संबंधों को बढ़ावा देगी।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम

Share this story