खुद को आग लगाने वाली महिला की इलाज के दौरान मौत

खुद को आग लगाने वाली महिला की इलाज के दौरान मौत
खुद को आग लगाने वाली महिला की इलाज के दौरान मौत मथुरा, 10 जनवरी (आईएएनएस)। मथुरा में शनिवार को थाने के सामने खुद को आग लगाने वाली महिला ने रविवार रात इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

उसने छेड़छाड़ के एक मामले में पुलिस की निष्क्रियता के विरोध में आत्मदाह का प्रयास किया था। उसके साथ छेड़छाड़ करने वाला व्यक्ति कथित तौर पांच साल पुरानी शिकायत वापस लेने के लिए उसे परेशान कर रहा था।

आपातकालीन चिकित्सा अधिकारी के अनुसार जब महिला को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया तो वह 96 प्रतिशत झुलस गई थी।

बाद में उसे एसएन रेफर कर दिया गया। आगरा के मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने गांव के प्रधान के पिता समेत चार लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) और 511 (आजीवन कारावास की सजा का प्रयास करना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

इस महीने की शुरूआत में महिला के गांव में कथित तौर पर एक पंचायत हुई थी, जिसमें 50 निवासियों ने हिस्सा लिया था। मामला अभी अदालत में लंबित होने के कारण सदस्यों ने आरोपी के साथ महिला पर अपनी शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया। ऐसा नहीं करने पर उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी।

पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने बताया कि चारों आरोपियों में से एक को गिरफ्तार कर रविवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

उन्होंने बताया कि अन्य की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई है।

पुलिस रिपोटरें के अनुसार, जुलाई 2017 में, महिला के साथ कथित तौर पर एक स्थानीय व्यक्ति ने छेड़छाड़ की थी। पुलिस ने उसे आईपीसी की धारा 354 के तहत प्राथमिकी दर्ज करने के बाद गिरफ्तार किया था। बाद में उसे 15 दिनों के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरएचए

Share this story