खुद को बैंक के कस्टमर केयर स्टाफ बताकर धोखाधड़ी करने वाले 5 गिरफ्तार

खुद को बैंक के कस्टमर केयर स्टाफ बताकर धोखाधड़ी करने वाले 5 गिरफ्तार
खुद को बैंक के कस्टमर केयर स्टाफ बताकर धोखाधड़ी करने वाले 5 गिरफ्तार नई दिल्ली, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने एक बैंक के कस्टमर केयर स्टाफ बनकर लोगों को ठगने के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी के अनुसार, एक व्यक्ति ने दिल्ली पुलिस के साइबर सेल में अज्ञात लोगों के खिलाफ 90,157 रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायतकर्ता ने कहा कि उसका बैंक क्रेडिट कार्ड काम नहीं कर रहा था, इसलिए उसने ट्विटर हैंडल के माध्यम से अपने बैंक की ग्राहक सेवा साइट पर सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से बैंक से मदद का अनुरोध किया। उसी दिन, उसे एक टोल-फ्री नंबर 18604195555 से कॉल आया। कॉल करने वाले ने कहा कि वह अपनी बैंक क्रेडिट कार्ड सेवा के संबंध में कॉल कर रहा है।

शिकायतकर्ता ने कॉलर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन किया, जिसके बाद इस राशि को धोखाधड़ी से उसके क्रेडिट कार्ड से काट लिया गया।

उसकी शिकायत के आधार पर पुलिस ने साइबर सेल शाहदरा जिले से एक टीम गठित की जिसने खाताधारक, सिम प्रदाता, बिचौलिया, एटीएम कार्ड संचालक और फोन करने वाले समेत पूरे गिरोह को पकड़ लिया।

आरोपियों की पहचान यूपी के बुलंदशहर निवासी अनीश खान, नोएडा के साहिल, दिल्ली के संगम विहार निवासी विकास कुमार और संदीप कुमार सिंह और दिल्ली के दक्षिणपुरी निवासी हरीश तिवारी के रूप में हुई है।

पुलिस ने बताया कि गैंग सोशल मीडिया पर बैंक में शिकायत दर्ज कराने के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर पर कॉल करता था। सोशल मीडिया से जानकारी लेने के बाद गिरोह के सदस्य एक मोबाइल एप्लिकेशन का इस्तेमाल कर स्पूफ कॉल करते थे, जिससे वे पीड़ित के मोबाइल स्क्रीन पर बैंक का टोल-फ्री नंबर प्रदर्शित कर सकते थे।

इसके बाद, गिरोह पीड़ित के क्रेडिट कार्ड के विवरण का उपयोग करके हाउसिंग डॉट कॉम वेबसाइट पर ठगी गई राशि को स्थानांतरित करता था और वहां से वे राशि को अपने खातों में जमा करते थे।

पुलिस ने गिरोह के कब्जे से एक लैपटॉप, सात मोबाइल फोन, पांच एटीएम कार्ड और एक पासबुक बरामद किया है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story