गांव में आपत्तिजनक मुनादी मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग ने लिया संज्ञान, नोटिस जारी

गांव में आपत्तिजनक मुनादी मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग ने लिया संज्ञान, नोटिस जारी
गांव में आपत्तिजनक मुनादी मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग ने लिया संज्ञान, नोटिस जारी नई दिल्ली, 11 मई (आईएएनएस)। उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर से सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसका राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी कर दिया है। मामले में आयोग ने गंभीरता दिखाते हुए 15 दिनों से भीतर मुजफ्फरनगर के जिला मजिस्ट्रेट और मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से कार्रवाई रिपोर्ट आयोग के समक्ष पेश करने का निर्देश दिया है।

दरअसल वीडियो में एक युवक ढोल बजाते हुए कह रहा है कि राजबीर प्रधान की ओर से मुनादी कराई जा रही है कि कोई भी अनुसूचित जाति का व्यक्ति उसकी डोल पर, समाधि पर, ट्यूबवेल पर न दिखे। अगर कोई दिखता है तो उस पर पांच हजार रुपए का जुर्माना लगेगा। इसी के साथ उसे 50 जूते भी लगेंगे।

मुजफ्फरनगर के पावटी खुर्द के पूर्व प्रधान राजबीर द्वारा गांव में आपत्तिजनक व जातिगत मुनादी कराई गई। राजबीर, कुख्यात गैंगस्टर रहे विक्की त्यागी के पिता हैं, जिसकी 2015 में हत्या कर दी गई थी।

इस मामले पर आयोग अध्यक्ष विजय सांपला ने कहा है कि, अति निंदनीय घटना है। उत्तरप्रदेश पुलिस ने अभी तक क्या कार्रवाई की है? उत्तरप्रदेश डीजीपी और सरकार पूर्ण जानकारी आयोग को जल्द भेजें।

--आईएएनएस

एमएसके/एएनएम

Share this story