गुरुग्राम ने साउदर्न पेरिफेरल रोड को सिग्नल मुक्त बनाने पर किया विचार

गुरुग्राम ने साउदर्न पेरिफेरल रोड  को सिग्नल मुक्त बनाने पर किया विचार
गुरुग्राम ने साउदर्न पेरिफेरल रोड  को सिग्नल मुक्त बनाने पर किया विचार गुरुग्राम, 12 सितम्बर (आईएएनएस)। गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीएमडीए) ने घाटा गांव और वाटिका चौक के बीच सदर्न पेरिफेरल रोड (एसपीआर) को सिग्नल फ्री बनाने के लिए लोगों से सुझाव मांगे हैं।

आठ किलोमीटर के इस रूट पर फिलहाल पांच चौराहे हैं, जहां ट्रैफिक सिग्नल लगे हैं।

जीएमडीए के अधिकारियों के मुताबिक इन चौराहों को सिग्नल फ्री बनाने के लिए यहां फ्लाईओवर और अंडरपास का प्रस्ताव रखा गया है।

जीएमडीए ने अब लोगों से सुझाव मांगा है कि इन चौराहों पर फ्लाईओवर या अंडरपास बनाया जाए या नहीं। अधिकारियों ने कहा कि लोगों के सुझावों को ध्यान में रखते हुए इस परियोजना पर आगे काम किया जाएगा।

जीएमडीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, घाटा गांव से वाटिका चौक तक ट्रैफिक सिग्नल के चलते यात्रियों को लंबा इंतजार करना पड़ता है। इसके लिए इन पांच चौराहों को सिग्नल फ्री करने की योजना है। लोगों के सुझाव के बाद जीएमडीए तय करेगा कि फ्लाईओवर हो या अंडरपास। इन चौराहों को सिग्नल मुक्त बनाने के लिए यहां निर्माण किया जाना है।

अधिकारियों ने कहा, अगर सभी पांच चौराहों पर फ्लाईओवर का निर्माण किया जाता है, तो इस पर अनुमानित रूप से 420 करोड़ रुपये खर्च होंगे। अंडरपास के निर्माण में 470 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है। हालांकि अधिकारियों के मुताबिक इन दोनों के निर्माण के लिए विभाग को अतिरिक्त जमीन के अधिग्रहण की जरूरत नहीं होगी।

एसपीआर के जरिए रोजाना 30,000 से ज्यादा वाहन चलते हैं। आसपास की सोसाइटी में रहने वाले लोग और गुरुग्राम-फरीदाबाद के बीच आने-जाने वाले लोग भी इस मार्ग का सामान्य रूप से उपयोग करते हैं।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस

Share this story