गैंगस्टर-आतंक गठजोड़ मामले में लॉरेंस बिश्नोई को दिल्ली लाया गया, एनआईए करेगी पूछताछ

गैंगस्टर-आतंक गठजोड़ मामले में लॉरेंस बिश्नोई को दिल्ली लाया गया, एनआईए करेगी पूछताछ
गैंगस्टर-आतंक गठजोड़ मामले में लॉरेंस बिश्नोई को दिल्ली लाया गया, एनआईए करेगी पूछताछ नई दिल्ली, 24 नवंबर (आईएएनएस)। गैंगस्टर आतंक गठजोड़ केस में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने गुरुवार को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को दस दिन की हिरासत में लिया है। हिरासत में लेने के बाद एनआईए लॉरेंस बिश्नोई को पंजाब से दिल्ली ले आई। बिश्नोई पंजाब की जेल में बंद था। यहां एनआईए के मुख्यालय में अधिकारी गैंगस्टर से पूछताछ करेंगे। एनआईए के अधिकारी ने बताया कि जांच में सामने आया है कि लॉरेंस बिश्नोइ के भाई सचिन, अनमोल बिश्नोई और उसके सहयोगियों गोल्डी बराड़, काला जथेड़ी, काला राणा, बिक्रम बराड़ और संपत नेहरा ड्रग्स और हथियारों की तस्करी और व्यापक जबरन वसूली के माध्यम से आतंकवादी-आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने के लिए धन जुटा रहे थे।

जांच में यह भी सामने आया है कि बिश्नोई के नेतृत्व में एक आतंकी, गैंगस्टर और ड्रग तस्कर टारगेट हत्याओं और व्यापारियों, डॉक्टरों समेत कारोबारियों से जबरन वसूली में शामिल था। इस तरह की आपराधिक हरकतें स्थानीय घटनाएं नहीं थीं, बल्कि देश के भीतर और बाहर दोनों जगह एक्टिव आतंकवादियों, गैंगस्टरों और ड्रग तस्करी के नेटवर्क के बीच गहरी साजिश का हिस्सा थीं। जांच में सामने आया है कि अधिकांश साजिशें लॉरेंस बिश्नोई द्वारा जेल के अंदर से रची गई थीं। एनआईए का कहना है कि गिरफ्तार गैंगस्टर 10 वर्ष से अधिक समय से दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान में टारगेट और सनसनीखेज हत्याओं को अंजाम देने की साजिश समेत कई मामलों में वांछित है। एनआईए को पता चला है कि कई पंजाबी पॉप गायक गैंगस्टरों के राडार पर थे।

एनआईए का कहना है कि गैंगस्टर पड़ोसी देश पाकिस्तान से हथियार और गोला-बारूद भी मंगवा रहे थे। नवंबर के पहले हफ्ते में एनआईए ने अपने दिल्ली मुख्यालय में दो पंजाबी गायकों दलप्रीत ढिल्लो और मनकीरत औलक से बंबीहा गैंग और लॉरेंस बिश्नोई के बारे में घंटों पूछताछ की थी। एनआईए ने बीते महीने दिवंगत मूसेवाला की सहयोगी पंजाबी पॉप गायिका अफसाना खान से पूछताछ की थी। रिपोर्ट के मुताबिक, विक्की मिद्दुखेरा की मौत का बदला लेने के लिए लॉरेंस बिश्नोई गिरोह ने कथित तौर पर सिंगर मूसेवाला की हत्या की थी। लेकिन मूसेवाला को मारने से पहले, पंजाबी पॉप उद्योग के कई लोगों को धमकी दी गई थी।

सूत्रों ने कहा कि एजेंसी गैंगस्टरों और पंजाबी पॉप उद्योग के बीच संबंधों की भी जांच करने की कोशिश कर रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि आने वाले दिनों में जांच एजेंसी जांच में शामिल होने के लिए पंजाबी पॉप इंडस्ट्री के कुछ और लोगों को तलब कर सकती है।

--आईएएनएस

एफजेड/एएनएम

Share this story