चीन और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर केंद्र जवाब दे : कांग्रेस

चीन और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर केंद्र जवाब दे : कांग्रेस
चीन और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर केंद्र जवाब दे : कांग्रेस नई दिल्ली, 18 नवम्बर (आईएएनएस)। कांग्रेस ने दावा किया है कि चीन ने भूटान में 100 किलोमीटर भूमि हड़पने और अवैध घुसपैठ कर 4 नए गांवों को स्थापित कर लिया है। जोकि देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा है इसलिए केंद्र सरकार को इस मामले में जवाब देना चाहिए।

कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने गुरुवार को कहा कि चीन ने भूटान में 100 किलोमीटर भूमि हड़पी है और अवैध घुसपैठ कर 4 नए गांवों को स्थापित कर लिया है।

उन्होंने इनीस सैन्य विकास पर एक प्रमुख उपग्रह इमेजरी विशेषज्ञ सी द्वारा ट्वीट की गई नई उपग्रह तस्वीरों का हवाला देते हुए दावा किया कि पिछले वर्ष के दौरान चीनी गांवों के तानीज क्षेत्र के पोर्ट किए गए निर्माण को ये तस्वीरें दर्शाती हैं।

वहीं इस मसले पर कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने प्रेसवार्ता कर कहा कि लगभग 100 वर्ग किमी यानी 25 हजार एकड़ के क्षेत्र में कई नए गांव फैले हुए दिखाई दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इनीस सैन्य विकास उपग्रह की ये तस्वीरें बेहद हैरान करने वाली हैं। भूटान की जमीन पर किया गया निर्माण भारत के लिए विशेष रूप से चिंताजनक है। भूटान की सीमा डोकल के बेहद करीब है। इस पूरे मसले केंद्र सरकार को अपना पक्ष स्पष्ट करना चाहिए। केंद्र की ओर से सामरिक तौर पर, सैन्य स्तर पर, कूटनीतिक स्तर पर और भौगोलिक स्तर पर या बातचीत के लेवल पर क्या कदम उठाए जा रहे हैं। इस मसले पर केंद्र को देश की जनता के सामने अपना पक्ष रखना चाहिए।

उन्होंने कहा कि ये भी सार्वजनिक है कि भारत ने भूटान को अपनी विदेश नीति पर सख्त सलाह दी है और अपनी नौसेना को प्रशिक्षित करना जारी रखा है। भूटान को अपनी जमीनों पर फिर से बातचीत करने के लिए लगातार अड़ियल दबाव का सामना करना पड़ा है।

गौरव वल्लभ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की ओर से लगातार चीन का नाम लेने से बचा जा रहा है। चीन के मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए हैं। क्या वजह है कि प्रधानमंत्री मोदी प्रसारवादी नीति या अन्य पर्यायवाची शब्दों के सहारे चीन को सम्बोधित कर रहे हैं। क्यों नहीं चीन को दो-टूक जवाब दिया जा रहा है?

इससे पहले भी प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि चीन पहले न भारत की सीमा में घुस था न अब घुस हुआ है। उन्होंने सवाल किया कि भारत की तरफ से चीन को लगातार क्लीन चिट क्यों दी जा रही है।

वहीं दूसरी ओर भूटान ने चीन द्वारा उसकी सीमा में 2.5 किलोमीटर अंदर घुसपैठ कर गांव बसाने की खबरों का खंडन किया है। भारत में भूटान के राजदूत वेटसोप नामग्येल ने इस मसले पर कहा कि भूटान के अंदर चीन का कोई गांव नहीं बसा है। सीमावर्ती मामले में वह कोई बयान नहीं देंगे।

--आईएएनएस

पीटीके/एएनएम

Share this story