चुनावी राज्यों में गृह मंत्री के काम को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली

चुनावी राज्यों में गृह मंत्री के काम को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली
चुनावी राज्यों में गृह मंत्री के काम को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली नई दिल्ली, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)। मतदान वाले राज्यों गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में करीब एक तिहाई मतदाता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के काम से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं। एबीपी-सीवोटर-आईएएनएस स्टेट ऑफ स्टेट्स 2021 ट्रैकर से यह जानकारी निकल कर सामने आई है।

सर्वेक्षण के अनुसार, 32.8 प्रतिशत लोग असंतुष्ट हैं, जबकि 31.2 प्रतिशत गृह मंत्री के काम से काफी संतुष्ट हैं। सर्वेक्षण से यह भी पता चला कि 23.3 ्नकुछ हद तक संतुष्ट हैं।

इन पांच राज्यों के लिए सर्वेक्षण का नमूना आकार 98,121 था, जो 690 निर्वाचन क्षेत्रों से लिया गया था।

चूंकि अगले साल सभी पांच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में उम्मीद है कि इस सर्वेक्षण से राजनीतिक दलों को चुनाव परिणामों का अंदाजा हो जाएगा।

उत्तर प्रदेश में, 50,936 लोगों के नमूने के आकार पर किए गए सर्वेक्षण को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली है। करीब 34.6 फीसदी लोग बहुत ज्यादा संतुष्ट हैं, जबकि 37.6 फीसदी लोग शाह के काम से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं।

कुल 12.6 प्रतिशत लोग कुछ हद तक संतुष्ट थे और 15.2 प्रतिशत लोगों ने इस मामले पर कोई राय नहीं दी और पता नहीं/कह नहीं सकते श्रेणी को चुना। सर्वेक्षण में 403 सीटों को शामिल किया गया था।

पंजाब में लोग शाह के कामकाज से नाखुश नजर आ रहे हैं। शायद पिछले एक साल से जारी किसानों के आंदोलन के कारण लोग नाराज हों।

सभी पांच चुनावी राज्यों में, पंजाब के लोगों ने असंतुष्ट श्रेणी को सबसे अधिक चुना। यहां सैंपल साइज 18,642 था। सर्वेक्षण के अनुसार, केवल 8 प्रतिशत लोग शाह के काम से बहुत संतुष्ट थे, जबकि उनमें से एक बड़ा हिस्सा, 53.7 प्रतिशत लोग बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं थे। सर्वेक्षण से यह भी पता चला कि 16.3 प्रतिशत लोग कुछ हद तक संतुष्ट थे और 22.1 प्रतिशत लोग गृह मंत्री के कामकाज के बारे में निश्चित नहीं थे।

6 महीने में भाजपा के तीन मुख्यमंत्रियों को देखने के बावजूद उत्तराखंड ने एक बार फिर पूर्व भाजपा अध्यक्ष के प्रति अपना झुकाव दिखाया है। लगभग 39.7 प्रतिशत लोग बहुत अधिक संतुष्ट हैं और 23.3 प्रतिशत लोग कुछ हद तक संतुष्ट हैं। कुल 28.2 प्रतिशत लोग बिल्कुल संतुष्ट नहीं थे, जबकि 8.8 प्रतिशत लोग रायहीन थे। उत्तराखंड में कुल 13,975 लोग सर्वेक्षण का हिस्सा थे।

मणिपुर शाह के पक्ष में था, क्योंकि सर्वेक्षण के अनुसार, 42.9 प्रतिशत लोग बहुत अधिक संतुष्ट हैं और 24 प्रतिशत लोग कुछ हद तक संतुष्ट हैं।

कुल 31.5 प्रतिशत लोग शाह के काम से बिल्कुल संतुष्ट नहीं थे, जबकि 7.2 प्रतिशत लोगों ने पता नहीं/कह नहीं सकते श्रेणी को चुना। यह सर्वे 1,520 लोगों पर किया गया था।

गोवा में, सर्वेक्षण से पता चला कि लोग गृह मंत्री की कार्यशैली से नाखुश हैं, क्योंकि 39.3 प्रतिशत लोग बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं, जबकि 31.9 प्रतिशत लोग बेहद संतुष्ट हैं। सर्वेक्षण के आंकड़ों से पता चला है कि 21.6 फीसदी लोग कुछ हद तक संतुष्ट हैं। कुल 7.2 प्रतिशत लोगों ने पता नहीं/कह नहीं सकते श्रेणी को चुना। यह सर्वे 13,048 लोगों पर किया गया था।

--आईएएनएस

एचके/

Share this story