जयनारायण मिश्रा ओडिशा विधानसभा में विपक्ष के नेता बने

जयनारायण मिश्रा ओडिशा विधानसभा में विपक्ष के नेता बने
जयनारायण मिश्रा ओडिशा विधानसभा में विपक्ष के नेता बने भुवनेश्वर, 30 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा ने शनिवार को घोषणा की कि ओडिशा विधानसभा में चार बार के विधायक और पूर्व मंत्री जयनारायण मिश्रा विपक्ष के नए नेता (एलओपी) होंगे।

पार्टी के प्रदेश सह प्रभारी विजय पाल सिंह ने यहां संवाददाता सम्मेलन में यह घोषणा की।

मिश्रा प्रदीप्त कुमार नाइक की जगह लेंगे, जिनका नई दिल्ली में कोविड-19 के बाद की जटिलताओं के बाद इलाज चल रहा है। सिंह ने कहा कि बीमारी के कारण नाइक लंबे समय से सदन में उपस्थित नहीं हो पाए हैं और उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया है।

उन्होंने कहा, हमारे केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर, मैं यहां आया और भाजपा विधायक दल की एक बैठक से अवगत कराया। विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक मोहन मांझी ने मिश्रा के नाम का प्रस्ताव इस पद के लिए रखा, जिस पर अन्य सभी विधायकों ने सर्वसम्मति से सहमति व्यक्त की।

मिश्रा ने उन पर विश्वास थोपने के लिए भाजपा विधायकों और केंद्रीय नेतृत्व को धन्यवाद देते हुए कहा कि पार्टी सदन में सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी।

उन्होंने कहा, (हम) बीजद सरकार के सभी गलत कामों को जनता के सामने लाने के लिए काम करेंगे। भाजपा विधायक दल विधानसभा में ओडिशा के लोगों की आवाज के रूप में काम करेगा।

संबलपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक मिश्रा ने 2000 से 2004 के दौरान उप मुख्य सचेतक और बीजद-भाजपा गठबंधन सरकार के दौरान वाणिज्य और परिवहन मंत्री (2004-09) के रूप में कार्य किया है।

वर्तमान में, 147 सीटों वाली ओडिशा विधानसभा में भाजपा के 22 सदस्य हैं और कांग्रेस के पास नौ सदस्य हैं। सूत्रों ने बताया कि पार्टी से आधिकारिक सूचना मिलने के बाद विधानसभा में नियुक्ति के बारे में औपचारिक घोषणा की जाएगी।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम

Share this story