जेल के डर से आप सरकार ने नई आबकारी नीति वापस ली: मनोज तिवारी

जेल के डर से आप सरकार ने नई आबकारी नीति वापस ली: मनोज तिवारी
जेल के डर से आप सरकार ने नई आबकारी नीति वापस ली: मनोज तिवारी नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने शनिवार को कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनके डिप्टी मनीष सिसोदिया के जेल जाने की आशंका के बाद आप सरकार ने नई आबकारी नीति वापस ले ली।

भाजपा नेता ने एक मीडिया ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए कहा, दिल्ली एलजी ने नई आबकारी नीति की जांच के लिए सिफारिश की। इसके बाद आप पार्टी चौतरफा घिरती नजर आने लगी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया को जेल जाते देखने की आशंका शुरू कर दी।

तिवारी ने दावा किया कि आप सरकार ने दिल्ली लोकायुक्त के फैसले के चार घंटे के भीतर नीति को शुक्रवार को वापस ले लिया।

उन्होंने कहा, हम फैसले का स्वागत करते हैं.. यह दिल्ली के लोगों की जीत है। लेकिन जब तक नीति में 600 से 700 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का पर्दाफाश नहीं हो जाता, तब तक हम शांत नहीं बैठेंगे।

गुजरात जहरीली शराब त्रासदी पर तिवारी ने कहा, जिस दिन केजरीवाल ने गुजरात का दौरा करना शुरू किया, ऐसी त्रासदी हुई। हम जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं और मुझे इसके पीछे कुछ साजिश दिखाई दे रही है।

ब्रीफिंग के दौरान मौजूद भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, इस (आप) सरकार ने लगभग 28 लाख रुपये की लागत से एक कक्षा का निर्माण किया है। हम दिखाएंगे कि इसे 5 लाख रुपये में बनाया जा सकता है।

दिल्ली लोकायुक्त ने शुक्रवार को दिल्ली सरकार से सरकार द्वारा अतिरिक्त कक्षाओं के निर्माण में कथित घोटाले की रिपोर्ट मांगी है।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम

Share this story