टीएमसी का गृह मंत्रालय के बाहर विरोध प्रदर्शन और धरना

टीएमसी का गृह मंत्रालय के बाहर विरोध प्रदर्शन और धरना
टीएमसी का गृह मंत्रालय के बाहर विरोध प्रदर्शन और धरना दिल्ली, 22 नवंबर (आईएएनएस)। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने यूथ विंग की प्रमुख सायोनी घोष की गिरफ्तारी के खिलाफ सोमवार को भी मंत्रालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया।

गृह मंत्रालय के बाहर टीएमसी के 15 सांसदों के प्रतिनिधिमंडल ने त्रिपुरा में टीएमसी यूथ विंग की प्रमुख सायोनी घोष को गिरफ्तार किये जाने के विरोध में गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ प्रदर्शन किया और गृह मंत्रालय के बाहर अब धरने पर बैठे हैं।

टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन के अनुसार जब तक की गृहमंत्री हमारे सीएमसी सांसदों को मिलने का समय नहीं देते सभी सांसद दिल्ली में धरने पर बैठेंगे।

टीएमसी के अनुसार ये धरना त्रिपुरा में कथित तौर पर पुलिस की बर्बरता को लेकर है। टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि त्रिपुरा में टीएमसी के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर क्रूर हमले किए जा रहे हैं। झूठे आरोप में गिरफ्तारियां हो रही हैं। इसलिए हम गृहमंत्री से मिल कर अपनी बात रखना चाहते हैं।

वहीं टीएमसी सांसद सौगत रॉय ने कहा है, तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ झूठे मामले दर्ज किए जा रहे हैं, इसलिए हम भी मंत्रालय के बाद धरने पर बैठे हैं।

प्रदर्शन में शामिल हुईं डोला सेन से कहा, सुप्रीम कोर्ट का निर्देश है कि सभी दलों को पोलिटिकल हक है, हम एक क्षेत्रीय दल हैं, हम अगरतला नगर निगम चुनाव लड़ना चाहते हैं लेकिन अब हम देख रहे हैं कि टीएमसी का कोई भी सांसद त्रिपुरा में जाता है उसको बुरी तरह मारा-पीटा जा रहा है। हमारे सांसदों को गृह मंत्री की तरफ से मिलने का समय भी नहीं दिया जा रहा है।

गौरतलब है कि टीएमसी और बीजेपी के बीच अगरतला नगर निगम और 12 अन्य नगर निकायों में आगामी चुनाव को लेकर तनाव बढ़ रहा है। ये चुनाव 25 नवंबर को होगा। राज्य में टीएमसी ने बीजेपी को घेरने के लिए दिल्ली में धरना देने और विरोध प्रदर्शन करने की ये रणनीति बनाई है।

टीएमसी ने पश्चिम बंगाल में लगातार तीसरी बार सरकार बनाने के बाद त्रिपुरा और गोवा में भी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। फिलहाल इन दोनों ही राज्यों में बीजेपी की सरकार है। टीएमसी के कई बड़े नेता और सांसद त्रिपुरा और गोवा में पिछले कई महीनों से पार्टी के प्रचार में जुटे हुए हैं।

--आईएएनएस

पीटीके/एएनएम

Share this story