ट्रेनों में चोरी के आरोप में पूर्व प्रधानाचार्य व बेटा गिरफ्तार

ट्रेनों में चोरी के आरोप में पूर्व प्रधानाचार्य व बेटा गिरफ्तार
ट्रेनों में चोरी के आरोप में पूर्व प्रधानाचार्य व बेटा गिरफ्तार आगरा, 24 जनवरी (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में एक सरकारी सहायता प्राप्त इंटर कॉलेज के बर्खास्त पूर्व प्रधानाचार्य को उनके बेटे के साथ ट्रेन यात्रियों से चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों को राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर नियमित जांच के दौरान गिरफ्तार किया।

पुलिस अधीक्षक (एसपी) जीआरपी मोहम्मद मुश्ताक ने कहा, पिता-पुत्र की जोड़ी फिरोजाबाद जिले के निवासी हैं, लेकिन वे आगरा जिले के मधु नगर इलाके में किराए के मकान में रह रहे थे। उन्हें हमारी टीम ने नियमित निरीक्षण के दौरान आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर पूछताद के लिए रोका था।

पूछताछ के दौरान आरोपी नरेश ने खुलासा किया कि कॉलेज के प्रिंसिपल के रूप में पद से हटाए जाने के बाद उसने आपराधिक गतिविधियों का सहारा लिया। तब से वह अपने बेटे आर्यन के साथ ट्रेनों में चोरी-डकैती करने लगा। उन्होंने विशेष रूप से एसी कोच में यात्रा करने वाले यात्रियों को निशाना बनाया।

अधिकारियों ने कहा कि वे दो महीने पहले मरुधर एक्सप्रेस में एक विदेशी नागरिक के साथ चोरी की घटना में नाम सामने आने के बाद 52 वर्षीय नरेश चंद की तलाश कर रहे थे।

उसके खिलाफ झांसी, इटावा और आगरा जिलों में छह आपराधिक मामले लंबित हैं। उसका वर्षीय बेटा आर्यन आगरा और फिरोजाबाद जिलों में दर्ज आठ आपराधिक मामलों में आरोपी है।

पुलिस ने कहा कि दोनों के पास से 96.5 ग्राम सोने के आभूषण, 475 ग्राम चांदी के बर्तन, दो लैपटॉप, 112 ट्रॉली बैग और पर्स, ब्रांडेड कपड़े, सामान आदि बरामद किया गया।

जीआरपी आगरा किला थाना प्रभारी यादराम सिंह ने कहा, दोनों आरोपी ऐशो-आराम की जिंदगी जीने के लिए चोरी का सामान बेचते थे। चोरी के अलावा नरेश के खिलाफ आगरा में रंगदारी के दो मामले भी दर्ज हैं।

--आईएएनएस

Share this story