डाडा जलालपुर में धर्म संसद नहीं महापंचायत है : आनंद स्वरूप (लीड-1)

डाडा जलालपुर में धर्म संसद नहीं महापंचायत है : आनंद स्वरूप (लीड-1)
डाडा जलालपुर में धर्म संसद नहीं महापंचायत है : आनंद स्वरूप (लीड-1) रुड़की, 27 अप्रैल (आईएएनएस)। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का जिक्र करते हुए स्वामी आनंद स्वरूप ने कहा कि डाडा जलालपुर में धर्म संसद नहीं बल्कि महापंचायत हो रही है। प्रशासन धारा 144 लगाकर मामले को तूल और विवाद को जन्म दे रहा है। भगवानपुर थाना क्षेत्र के गांव डाडा जलालपुर में काली सेना के आह्वान पर बुधवार को हिंदू महापंचायत प्रस्तावित है। इसे लेकर पुलिस प्रशासन अलर्ट पर है। पांच किलोमीटर के क्षेत्र में एसडीएम भगवानपुर के आदेश पर धारा 144 लागू कर दी गई है।

गाव डाडा जलालपुर में हनुमान जन्मोत्सव पर निकाली गई शोभायात्रा के दौरान बवाल और आगजनी की घटना हुई थी। सभी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर काली सेना के संस्थापक व शांभवी पीठाधीश्वर स्वामी आनंद स्वरूप ने आज (बुधवार) डाडा जलालपुर में हिंदू महापंचायत करने का आह्वान किया है। इससे पहले ही मंगलवार को एसडीएम भगवानपुर ब्रजेश कुमार तिवारी ने डाडा जलालपुर गांव के पांच किलोमीटर क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी है। ये क्षेत्र हैं -- डाडा पट्टी, हसनपुर, मदनपुर, लतीफपुर, खुब्बनपुर, बहवलपुर, हंसोवाला, मानक मजरा, अकबरपुर, कालसो, खेड़ली, खेड़ी शिकोहपुर, सिकरोढ़ा, हल्लूमजरा।

इसके साथ ही पुलिस ने सख्ती भी बरतनी शुरू कर दी है। एसएसपी डॉ. योंगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि पूरे मामले पर पूरी नजर रखी जा रही है।

शंकराचार्य परिषद अध्यक्ष स्वामी आनंद स्वरूप ने कहा कि काली सेना के आह्वान पर डाडा जलालपुर में महापंचायत आयोजित हो रही है। लेकिन प्रशासन धारा 144 लगाकर मामले को तूल और विवाद को जन्म दे रहा है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का जिक्र करते हुए स्वामी आनंद स्वरूप ने कहा कि डाडा जलालपुर में धर्म संसद नहीं बल्कि महापंचायत हो रही है।

--आईएएनएस

स्मिता/एसकेपी

Share this story