डीआरडीओ जासूसी मामले में ओडिशा पुलिस को मिला पाकिस्तान का लिंक

डीआरडीओ जासूसी मामले में ओडिशा पुलिस को मिला पाकिस्तान का लिंक
डीआरडीओ जासूसी मामले में ओडिशा पुलिस को मिला पाकिस्तान का लिंक भुवनेश्वर, 6 अक्टूबर (आईएएनएस)। डीआरडीओ जासूसी मामले में पाकिस्तान से जुड़े होने का खुलासा करते हुए ओडिशा पुलिस ने बुधवार को कहा कि संदिग्ध महिला कार्यकर्ता के चार फेसबुक अकाउंट पाकिस्तान से संचालित थे।

ओडिशा पुलिस (अपराध शाखा) के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) संजीव पांडा ने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि महिला ऑपरेटिव के सात में से चार फेसबुक अकाउंट हैं, जिस पर आईटीआर चांदीपुर से संवेदनशील जानकारी लीक करने में शामिल जासूसी गिरोह की हैंडलर होने का संदेह है। यह अकाउंट्स पाकिस्तान से संचालित किए गए थे।

पांडा ने कहा, स्थान गुप्त रखने के लिए प्रॉक्सी आईपी एड्रेस के माध्यम से अकाउंट्स का संचालन किया गया था। चार खातों में से तीन इस्लामाबाद से संचालित थे जबकि एक रावलपिंडी से था।

हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि रहस्यमय महिला पाकिस्तान की है या नहीं।

कुछ फेसबुक अकाउंट अभी भी सक्रिय हैं और अपराध शाखा द्वारा आगे की चैट देखी जा रही हैं, जिनका विवरण एडीजी ने साझा करने से इनकार कर दिया है, क्योंकि जांच अभी भी जारी है।

उन्होंने कहा कि अपराध शाखा ने आरोपी और संदिग्ध महिला संचालक के बीच कुछ चैट एकत्र की हैं, जबकि कुछ चैट हटा दी गई हैं।

पांडा ने बताया, गिरफ्तार पांच आरोपियों से पहले चरण में पूछताछ की जा चुकी है और हम संबंधित एजेंसियों से और तकनीकी आंकड़े मांग रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो हम आगे की पूछताछ के लिए पांचों आरोपियों को रिमांड पर ले सकते हैं।

उन्होंने कहा कि क्राइम ब्रांच ने इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (आईसीईआरटी) से तकनीकी डाटा मांगा है।

ओडिशा पुलिस ने 14 सितंबर को चांदीपुर में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) इकाई के पांच पूर्व संविदा कर्मचारियों को अज्ञात विदेशी एजेंटों के साथ जरूरी रक्षा जानकारी साझा करने के आरोप में गिरफ्तार किया था, जिनके पाकिस्तान से होने का संदेह है।

--आईएएनएस

एकेके/आरजेएस

Share this story