तीन घण्टे एयरपोर्ट पर बैठा, फिर प्रयास करेंगे : भूपेश बघेल

तीन घण्टे एयरपोर्ट पर बैठा, फिर प्रयास करेंगे : भूपेश बघेल
तीन घण्टे एयरपोर्ट पर बैठा, फिर प्रयास करेंगे : भूपेश बघेल नई दिल्ली, 6 अक्टूबर, (आईएएनएस)। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि वह मंगलवार को तीन घण्टे एयरपोर्ट पर बैठे रहे, हालांकि, फिर एक बार लखीमपुर जाने का प्रयास करेंगे।

राहुल गांधी के साथ दिल्ली से लखनऊ के लिए एयरपोर्ट रवाना होने से पहले आईएएनएस से भूपेश बघेल ने कहा, कल मैं ढाई-तीन घण्टे एयरपोर्ट पर बैठा लेकिन मुझे जाने नहीं दिया गया। आज फिर एक बार प्रयास करूंगा

बघेल ने कहा, हम दो राज्यों के मुख्यमंत्री आज फिर प्रयास करेंगे। अगर तीन लोगों को इजाजत नहीं मिली तो अकेले राहुल गांधी को मिलने की इजाजत दे दें।

इससे पहले मंगलवार को लखनऊ एयरपोर्ट पर पहुँचकर ट्वीट कर कहा, बिना किसी आदेश के मुझे लखनऊ एयरपोर्ट से बाहर जाने से रोका जा रहा है।

उनके ट्वीट किए गए फोटो में बघेल को सफेद कुर्ता-पायजामा में फर्श पर बैठे हुए देखा गया। जबकि पुलिसकर्मी और गार्डस उनके आसपास मौजूद थे। बघेल ने करीब एक मिनट का वीडियो भी शेयर किया है जिसमें वे अधिकारियों से बात करत देखे गए। जिसमे वह कह रहे थे, धारा 144 तो लखीमपुर में है। हम लखीमपुर तो जा नहीं रहे हैं। तो फिर दिक्कत क्या है।

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी का तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल बुधवार को लखीमपुर पीड़ित परिवार से मुलाकात करने जाने के लिए प्रयासरत है। जिसका नेतृत्व राहुल गांधी कर रहे हैं।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा में 8 लोगों के मारे जाने की सूचना है, जिसमें किसान भी शामिल हैं। उत्तरप्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लखीमपुर आ रहे थे और इसके खिलाफ किसानों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था।

इसी दौरान हिंसा हुई और इसके लिए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे और किसानों के प्रदर्शन में शामिल उपद्रवी तत्वों को जि़म्मेदार बताया जा रहा है। हालांकि अभी पूरे मामले में जांच चल रही है। हिंसा के बाद इलाके में धारा-144 लगा दी गई है और इंटरनेट पर पाबंदी है।

--आईएएनएस

पीटीके/आरजेएस

Share this story