तृणमूल कांग्रेस ने त्रिपुरा में 2 तदर्थ समितियों की घोषणा की

तृणमूल कांग्रेस ने त्रिपुरा में 2 तदर्थ समितियों की घोषणा की
तृणमूल कांग्रेस ने त्रिपुरा में 2 तदर्थ समितियों की घोषणा की अगरतला, 6 अक्टूबर (आईएएनएस)। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने करीब 75 दिनों के बाद 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा शासित त्रिपुरा में कदम रखा है। पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी ने बुधवार को पूर्वोत्तर राज्य में पार्टी के संगठनात्मक आधार का विस्तार करने के लिए दो तदर्थ समितियों की घोषणा की।

पार्टी के एक बयान में कहा गया है कि अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस ने अध्यक्ष ममता बनर्जी के मार्गदर्शन में त्रिपुरा तृणमूल कांग्रेस राज्य संचालन समिति और राज्य युवा समिति की घोषणा की है। पूर्व भाजपा और कांग्रेस नेता सुबल भौमिक, जो 29 जुलाई को टीएमसी में शामिल हुए थे, को 19 सदस्यीय राज्य संचालन समिति का संयोजक बनाया गया है, जबकि पूर्व कांग्रेस नेता बाप्टू चक्रवर्ती, जो पिछले महीने पार्टी में शामिल हुए थे, को 11-सदस्यीय राज्य युवा समिति का संयोजक नियुक्त किया गया है।

19 सदस्यीय संचालन समिति में पांच महिला सदस्य और अन्य पिछड़े समुदायों और आदिवासियों से दो-दो सदस्य, अनुसूचित जाति समुदाय और मुस्लिमों से तीन-तीन सदस्य हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री और दिवंगत कांग्रेस नेता संतोष मोहन देव (दक्षिणी असम के सिलचर से) की बेटी सुष्मिता देव, जिन्होंने कांग्रेस छोड़ दी और 16 अगस्त को तृणमूल में शामिल हुईं, को राज्य संचालन समिति का सदस्य बनाया गया है। तृणमूल ने पिछले महीने सुष्मिता देव को राज्यसभा के लिए नामित किया था।

दो तदर्थ समितियों के लगभग सभी अन्य सदस्य कांग्रेस और अन्य दलों से अलग हो गए हैं।

राज्य पुलिस द्वारा 25 जुलाई को अगरतला के एक होटल में चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की आई-पैक (इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी) के 23 सदस्यों की नजरबंदी के बाद से तृणमूल के 20 से अधिक शीर्ष नेता, जिनमें कई मंत्री, सांसद और राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी, भाजपा शासित त्रिपुरा में पहुंचने लगे हैं, जिससे हिंसा और व्यस्त राजनीतिक गतिविधियां शुरू हो गई हैं।

ब्रत्य बसु, मोलॉय घटक, चंद्रिमा भट्टाचार्जी, मंत्री, डेरेक ओ ब्रायन, काकोली घोष दस्तीदार और रीताब्रत बनर्जी सहित कई तृणमूल नेता 25 जुलाई से अक्सर त्रिपुरा आते रहे हैं। बीते ढाई महीनों में कई हजार कार्यकर्ता और कुछ नेता टीएमसी में शामिल हुए हैं।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story