थरूर प्रतिनिधियों की सूची देखने कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे, गहलोत भी दिल्ली में

थरूर प्रतिनिधियों की सूची देखने कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे, गहलोत भी दिल्ली में
थरूर प्रतिनिधियों की सूची देखने कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे, गहलोत भी दिल्ली में नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)। कांग्रेस सांसद शशि थरूर बुधवार को पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव की अधिसूचना से पहले प्रतिनिधियों की सूची देखने के लिए यहां पार्टी मुख्यालय पहुंचे। वह नामांकन पत्र दाखिल करने की तैयारी कर रहे हैं। संभावित उम्मीदवार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी दिल्ली पहुंच चुके हैं।

थरूर को जी-23 समूह के संभावित उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा है, जो किसी मुकाबले की स्थिति में गांधी फैमिली के वफादारों को चुनौती दे सकते हैं।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी बुधवार को दिल्ली पहुंचे और उनकी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने की संभावना है। इसके बाद उनके राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने की उम्मीद है।

गहलोत ने कहा, हर कोई एक मजबूत कांग्रेस चाहता है और सभी दलों को लोकतांत्रिक प्रक्रिया का पालन करना चाहिए। पार्टी में चुनाव सभी कांग्रेस सदस्यों के लिए खुले हैं।

गहलोत ने मंगलवार रात राजस्थान कांग्रेस के विधायकों को संबोधित किया और पार्टी के शीर्ष पद के लिए नामांकन करने का संकेत दिया।

सोनिया गांधी ने मंगलवार को के.सी. वेणुगोपाल को दिल्ली तलब किया और राजस्थान के मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की, जबकि गहलोत राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाने पर जोर दे रहे हैं।

सूत्रों ने कहा कि गहलोत दिल्ली शिफ्ट नहीं होना चाहते और ये भी नहीं चाहते कि राजस्थान में सचिन पायलट को मुख्यमंत्री का पद दिया जाए।

कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद कहा कि चुनाव लड़ने के बारे में फैसला राहुल गांधी को करना है और एक हफ्ते के भीतर सब कुछ साफ हो जाएगा।

वेणुगोपाल ने कहा, मेरे पास पार्टी का कुछ काम बाकी था इसलिए मैं सोनिया गांधी से मिलने आया था।

उन्होंने कहा कि राज्य में प्रस्ताव पारित करना पार्टी कार्यकर्ताओं का विशेषाधिकार है क्योंकि हर कार्यकर्ता चाहता है कि राहुल पार्टी का अध्यक्ष बनें।

--आईएएनएस

एसकेपी

Share this story