दक्षिण कोरिया के नए राष्ट्रपति ने ली शपथ, राष्ट्र के पुनर्निर्माण का लिया संकल्प

दक्षिण कोरिया के नए राष्ट्रपति ने ली शपथ, राष्ट्र के पुनर्निर्माण का लिया संकल्प
दक्षिण कोरिया के नए राष्ट्रपति ने ली शपथ, राष्ट्र के पुनर्निर्माण का लिया संकल्प सियोल, 10 मई (आईएएनएस)। दक्षिण कोरिया के 13वें राष्ट्रपति के रूप में यूं सुक-योल ने मंगलवार को शपथ ली। साथ ही मजबूत लोकतंत्र और अर्थव्यवस्था की नींव पर राष्ट्र के पुनर्निर्माण का संकल्प लिया।

नए प्रशासन की शुरूआत करने के लिए, सियोल शहर में आधी रात को बैल-रिंगगिंग सेरेमनी का आयोजन किया गया। उनके इस समारोह का 41,000 लोग हिस्सा बने।

इन लोगों में यूएस सेकेंड जेंटलमैन डगलस एम्होफ और चीनी उपराष्ट्रपति वांग किशन जैसे विदेशी नेता शामिल रहे।

अपने उद्घाटन भाषण में, यूं ने दक्षिण कोरिया में विकास और बढ़ती बेरोजगारी पर जोर दिया। साथ ही देश के सामने आने वाली कई चुनौतियों का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा, यह हमारी पीढ़ी का आह्वान है कि एक ऐसे राष्ट्र का निर्माण हो, जिसमें मजबूत लोकतंत्र और अर्थव्यवस्था सुनिश्चित हो। एक ऐसा राष्ट्र जो अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के एक विश्वसनीय सदस्य के रूप में अपनी जिम्मेदारी को पूरा करे, और एक ऐसा राष्ट्र जो वास्तव में लोगों का हो।

नए राष्ट्रपति ने उत्तर कोरिया में बढ़ते तनाव को लेकर कहा, उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम हमारी और पूर्वोत्तर एशिया की सुरक्षा के लिए खतरा हैं। बातचीत का द्वार हमेशा खुला रहेगा ताकि हम इस खतरे को शांति से हल कर सके।

उन्होंने कहा, अगर हम वास्तव में परमाणु निरस्त्रीकरण को पूरा करने की प्रक्रिया शुरू करते है, तो उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था, एशिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगी। लोगों का जीवन सकारात्मक तौर पर बदलेगा।

यूं ने ऐसे समय में पदभार संभाला है जब दक्षिण कोरिया कोविड महामारी, यूक्रेन-रूस युद्ध, उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों के खतरे और अन्य कारकों से आर्थिक चुनौतियों से निपटने के लिए संघर्ष कर रहा है।

21 मई को सियोल में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ यूं का पहले शिखर सम्मेलन होगा। जिसमें आर्थिक सुरक्षा और उत्तर कोरिया दोनों को उच्च स्थान देने की उम्मीद है।

--आईएएनएस

पीके/आरएचए

Share this story