दिल्ली में पांच दिन रहेंगी पश्चिम बंगाल सीएम ममता, सोनिया गांधी से मुलाकात पर टिकी निगाहें

दिल्ली में पांच दिन रहेंगी पश्चिम बंगाल सीएम ममता,  सोनिया गांधी से मुलाकात पर टिकी निगाहें
दिल्ली में पांच दिन रहेंगी पश्चिम बंगाल सीएम ममता,  सोनिया गांधी से मुलाकात पर टिकी निगाहें

अपने पांच दिवसीय दौरे पर यह देखना जरूरी होगा कि क्या ममता बैनर्जी सोनिया गांधी से मुलाकात के लिए समय मांगती या नहीं। यदि मांगा गया तो क्या सोनिया गांधी की तरफ से फिर समय मिलेगा या नहीं इसपर सबकी निगाहें टिकी हुईं हैं।

दिल्ली आने के बाद ममता विपक्षी पार्टियों ने वरिष्ठ नेताओं से भी मुलाकात करेंगी। इसके साथ ही विपक्षी पार्टी के नेताओं पर लगातार ईडी का हमला जारी है और यह मुलाकात इसलिए भी बहुत जरुरी हो जाती है क्योंकि पश्चिम बंगाल में ममता के करीबी और मंत्री रहे पार्थ चैटर्जी को चार दिन पहले ईडी ने गिरफ्तार किया हुआ है।

कांग्रेस सूत्रों की मानें तो, ममता बैनर्जी को अपनी रणनीति में बदलाव करना होगा क्योंकि वह इससे पहले भी कांग्रेस पार्टी के बिना विपक्षी मोर्चे के बारे में आवाज उठाती रहीं हैं।

इसके साथ ही कांग्रेस के कुछ नेताओं का यह भी मानना है कि, औपचारिक मुलाकात करने में कोई बुराई नहीं है। यदि वह सभी से मुलाकात करती हैं तो सोनिया गांधी से मुलाकात करने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

दरअसल हाल में राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस और टीएमसी के बीच संतुलन कम दिखा और ममता ने एनडीए से पहले यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बना कर कांग्रेस को पीछे धकेल दिया था। वहीं जब अब उपराष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस ने अगुवाई की तो ममता ने अलग राह पकड़ ली, जिस पर कांग्रेस हमला बोलती हुई नजर आईं।

--आईएएनएस

एमएसके/एएनएम

Share this story