नाबालिग को झाड़ी में लगी आग में धकेला, तीन पर मामला दर्ज

नाबालिग को झाड़ी में लगी आग में धकेला, तीन पर मामला दर्ज
नाबालिग को झाड़ी में लगी आग में धकेला, तीन पर मामला दर्ज चेन्नई, 11 मई (आईएएनएस)। तमिलनाडु में जाति संबंधी हिंसा की एक घटना में तिंडीवनम पुलिस ने 11 साल के बालक को आग लगाने और मारपीट करने के आरोप में उच्च जाति के तीन किशोर छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

छात्र को मारपीट कर झाड़ी में लगी आग में धकेल दिया गया था, जिससे उसके शरीर पर गंभीर चोटों के निशान पाए गए हैं। पुलिस ने तीन नाबालिग युवकों के खिलाफ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने कहा कि कट्टुचिविरी सरकारी स्कूल के कक्षा 6 के छात्र को उसी स्कूल के उच्च जाति के लड़कों द्वारा भड्डी गालियां देकर अपमानित किया गया था।

सोमवार शाम जब लड़का अपने रिश्तेदार के घर गया था, तब छात्रों ने उसे देखा और उसका अपमान किया और बाद में उसे एक झाड़ी में धकेल दिया जिसमें आग लगी हुई थी। तभी लड़के ने समझदारी दिखाते हुए पास में लगी पानी की टंकी में छलांग लगा दी थी।

घर लौटने के बाद, लड़के के माता-पिता उसके शरीर को जला हुआ देखकर हैरान रह गए और पूछने पर उसने बताया कि वह गलती से उस झाड़ी में गिर गया था जिसमें आग लग गई थी।

हालांकि जब तिंडीवनम सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों ने उससे पूछताछ की, तो लड़के ने घटना का खुलासा किया और यह भी बताया कि ऊंची जाति के लड़के नियमित रूप से उसका अपमान करते थे।

लड़के के पिता ने तिंडीवनम पुलिस में शिकायत की, जहां युवकों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 324 और एससी/एसटी अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।

--आईएएनएस

एचएमए/एएनएम

Share this story