नेशनल कांफ्रेंस नेता की मौत के आरोपी का नोट वायरल, जांच कर रही पुलिस

नेशनल कांफ्रेंस नेता की मौत के आरोपी का नोट वायरल, जांच कर रही पुलिस
नेशनल कांफ्रेंस नेता की मौत के आरोपी का नोट वायरल, जांच कर रही पुलिस नई दिल्ली, 12 सितंबर (आईएएनएस)। नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू के पूर्व एमएलसी तरलोचन सिंह वजीर के पश्चिमी दिल्ली के एक फ्लैट में मृत पाए जाने के तीन दिन बाद, पुलिस रविवार को वजीर हत्याकांड के संदिग्धों में से एक हरमीत सिंह के सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट किए गए सनसनीखेज हस्तलिखित नोट की सत्यता का पता लगाने की कोशिश कर रही थी।

हमीत सिंह द्वारा हस्ताक्षरित हिंदी में आठ पन्नों का एक नोट उनके फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट किया गया था।

नोट में वजीर की हत्या की घटनाओं के कालक्रम और सिंह द्वारा एक स्वीकारोक्ति का विवरण दिया गया है कि उसने ना केवल वजीर को, बल्कि लगभग 100 अन्य लोगों को मार डाला है। नोट यह कहकर समाप्त होता है कि वह अब आत्महत्या कर रहा है।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता, पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) चिन्मय बिस्वाल ने कहा, हरमीत सिंह के फेसबुक अकाउंट पर 27 बिंदुओं वाला एक हस्तलिखित नोट पोस्ट किया गया था। यह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। हालांकि, अभी यह पता नहीं चल पाया है कि यह संदेश किसने पोस्ट किया है। पुलिस हस्तलिखित नोट की जांच कर रही है।

जम्मू-कश्मीर विधानसभा के पूर्व सदस्य, जम्मू-कश्मीर की गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष और पिछले तीन दशकों से जम्मू-कश्मीर राज्य परिवहन संघ के अध्यक्ष वजीर 9 सितंबर को पश्चिमी दिल्ली के द्वारका इलाके में एक फ्लैट में मृत पाए गए थे।

वह 2 सितंबर को जम्मू से दिल्ली आए थे और 3 सितंबर को कनाडा के लिए उड़ान भरने वाले थे। हालांकि, वह हवाईअड्डे पर नहीं पहुंचे, जिसके बाद उनके परिवार ने उससे संपर्क किया, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। पड़ोसियों द्वारा दरुगध की शिकायत करने और पुलिस को बुलाने के अगले दिन वजीर का शव मिला।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि नेशनल कांफ्रेंस के नेता की खोपड़ी में एक गोली लगी हुई थी, जिससे संकेत मिलता है कि वजीर की गोली मारकर हत्या की गई थी।

पुलिस ने कहा कि वह कथित हत्या के सिलसिले में जम्मू के दूसरे आरोपी हरप्रीत सिंह खालसा के परिवार की जांच कर रही है। पुलिस ने कहा, हमने हरप्रीत सिंह के परिवार के लोगों से पूछताछ की है, जिसमें उनकी एक महिला मित्र भी शामिल है और जल्द ही लुक आउट नोटिस जारी किया जा सकता है।

हरप्रीत सिंह वजीर के साथ किराए के फ्लैट में रह रहा था, जहां उनका शव बेहद सड़ी-गली हालत में मिला था।

फिलहाल दोनों आरोपी फरार हैं और दिल्ली पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए बहु-राज्यीय तलाशी अभियान शुरू किया है।

पुलिस ने कहा कि जम्मू-कश्मीर, दिल्ली और पंजाब सहित विभिन्न राज्यों में मामले की जांच के लिए करीब आधा दर्जन टीमों का गठन किया गया है।

--आईएएनएस

एचके/एसजीके

Share this story