पंजाब रंगदारी मामला: एनआईए की टीम ने संदिग्धों की तलाश में यूपी के गांव की तलाशी ली

पंजाब रंगदारी मामला: एनआईए की टीम ने संदिग्धों की तलाश में यूपी के गांव की तलाशी ली
पंजाब रंगदारी मामला: एनआईए की टीम ने संदिग्धों की तलाश में यूपी के गांव की तलाशी ली मेरठ (उत्तर प्रदेश), 7 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की एक टीम मेरठ जिले के एक गांव में दो लोगों की तलाश में पहुंची। बता दें कि इन पर इस साल मई में पंजाब के मोगा में एक जबरन वसूली रैकेट का भंडाफोड़ करने के लिए अवैध हथियारों की आपूर्ति करने का संदेह है।

इस गिरोह को कथित तौर पर विदेशों में बसे खालिस्तानी अलगाववादी चला रहे हैं।

एनआईए की टीम ने बुधवार को दोनों संदिग्धों के परिवारों को नोटिस सौंपा और उन्हें पूछताछ के लिए चंडीगढ़ स्थित उनके कार्यालय में पेश होने को कहा।

कथित जबरन वसूली रैकेट में पहला मामला इसी साल 22 मई को मोगा में दर्ज किया गया था और अलगाववादियों के नाम सामने आने के बाद 10 जून को एनआईए ने मामले की जांच अपने हाथ में ले ली।

जुलाई में इसने मेरठ से एक कथित हथियार तस्कर को गिरफ्तार किया था।

एनआईए ने तब एक बयान में कहा था, गगनदीप सिंह मामले के मुख्य आरोपियों में से एक और खालिस्तान टाइगर फोर्स के प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर के करीबी अर्शदीप के निर्देश पर हथियारों की तस्करी में शामिल था।

सूत्रों के मुताबिक राधना गांव में जलीश अहमद और मोहम्मद खिलाफत के घरों पर एनआईए की टीम ने छापेमारी की।

--आईएएनएस

एसकेके/आरजेएस

Share this story