पन्नीरसेल्वम ने कोरोना के बीच तस्माक की दुकानों को बंद करने का किया अनुरोध

पन्नीरसेल्वम ने कोरोना के बीच तस्माक की दुकानों को बंद करने का किया अनुरोध
पन्नीरसेल्वम ने कोरोना के बीच तस्माक की दुकानों को बंद करने का किया अनुरोध चेन्नई, 10 जनवरी (आईएएनएस)। अन्नाद्रमुक के मुख्य समन्वयक और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम (ओपीएस) ने राज्य सरकार से तमिलनाडु राज्य विपणन निगम ( तस्माक) की शराब की दुकानों को बंद करने का आह्वान किया है।

पन्नीरसेल्वम ने आगे कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति सामान्य होने तक शराब की दुकानें बंद रखी जानी चाहिए। वर्तमान में टेस्ट पॉजिटिविटी रेट (टीपीआर) अब 8 फीसदी है और तस्माक की शराब की दुकानों को कम से कम तब तक बंद किया जाना चाहिए, जब तक कि टीपीआर 5 फीसदी तक नहीं आ जाता है।

पन्नीरसेल्वम ने रविवार को एक बयान में कहा, तीन दिनों के अंदर कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या दोगुनी हो गई है। राज्य सरकार के इन दुकानों को काम करने की अनुमति देना मामलों में इस वृद्धि को एक कारण है।

उन्होंने कहा कि जब एम.के. स्टालिन विपक्षी नेता थे, तब उन्होंने दुकानों को बंद करने के लिए 7 मई, 2020 को तस्माक की दुकानों के सामने विरोध प्रदर्शन किया था। उस वक्त कोरोना के सिर्फ 580 मामले थे।

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने 14 जून, 2021 को घोषणा की है कि शराब की दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहेंगी और अब कुल मामलों की संख्या 12,772 हो गई है।

पूर्व मुख्यमंत्री द्रमुक के खिलाफ जमकर बरसे और कहा कि वह तस्माक की दुकानों को लेकर मुख्यमंत्री के रुख की निंदा करते हैं।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस

Share this story