पवार के दावे के बाद गोवा कांग्रेस ने कहा, तृणमूल से गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं हुई

पवार के दावे के बाद गोवा कांग्रेस ने कहा, तृणमूल से गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं हुई
पवार के दावे के बाद गोवा कांग्रेस ने कहा, तृणमूल से गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं हुई पणजी, 12 जनवरी (आईएएनएस)। गोवा में कांग्रेस ने आगामी 14 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस के साथ संभावित गठबंधन पर बातचीत की खबरों का खंडन किया है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के सुप्रीमो शरद पवार ने मुंबई में संवाददाताओं से कहा था कि उनकी पार्टी तटीय राज्य में आगामी चुनावों के लिए चुनाव पूर्व गठबंधन के लिए कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के साथ बातचीत कर रही है। इसके बाद दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन की अटकलें तेज हो गई थीं।

पवार ने मंगलवार को कहा, हमने गोवा में एक साथ आने पर चर्चा की और चर्चा अभी भी जारी है। अभी कोई फैसला नहीं किया गया है। गोवा को बदलाव की जरूरत है और भाजपा सरकार को जाने की जरूरत है।

उनकी प्रतिक्रिया के लिए पूछे जाने पर गोवा के एआईसीसी प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने कहा कि शरद पवार इस घटनाक्रम पर टिप्पणी करने के लिए सबसे अच्छी स्थिति में होंगे।

राव ने संवाददाताओं से कहा, आप श्री शरद पवार से ही पूछें। उन्होंने जो कहा है उस पर मैं टिप्पणी नहीं कर सकता। मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्या कहा। मैं उनकी कही गई बातों पर प्रतिक्रिया नहीं दे सकता। वह बड़े नेता हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी गोवा चुनावों के लिए तृणमूल के साथ गठबंधन के बारे में चर्चा का नेतृत्व करेंगे, यह खबर राष्ट्रीय मीडिया में सोमवार को आने पर प्रतिक्रिया देते हुए राव ने कहा, कांग्रेस का तृणमूल से गठबंधन को लेकर न तो कोई चर्चा हुई और न ही इसे लेकर कल कोई बैठक हुई। वे कह रहे हैं कि नेताओं (गोवा से) को दिल्ली बुलाया गया है। किसी को दिल्ली नहीं बुलाया गया। कोई नहीं गया है। वह गलत रिपोर्ट थी।

सोमवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के.सी. वेणुगोपाल ने राहुल गांधी और गोवा के लिए पार्टी के वरिष्ठ चुनाव पर्यवेक्षक पी. चिदंबरम के साथ एक वर्चुअल मुलाकात के बाद ट्वीट किया था, यह अफवाह चल रही थी कि आज की बैठक में राहुल गांधी द्वारा टीएमसी के साथ एक संभावित गठबंधन पर चर्चा की गई है, जो कि पूरी तरह से निराधार और असत्य है। मैं विश्वास दिलाता हूं कि कांग्रेस पार्टी आश्वस्त है - हम गोवा को जल्द ही प्रगति के रास्ते पर वापस लाएंगे।

--आईएएनएस

एकेके/एसजीके

Share this story