पाकिस्तान की सुरक्षा व्यवस्था पर डगमगाया चीन का भरोसा

पाकिस्तान की सुरक्षा व्यवस्था पर  डगमगाया चीन का भरोसा
पाकिस्तान की सुरक्षा व्यवस्था पर  डगमगाया चीन का भरोसा इस्लामाबाद, 8 मई (आईएएनएस)। कराची विश्वविद्यालय विस्फोटक हमले के बाद भले ही पाकिस्तान से चीनी कर्मियों का पलायन नहीं हुआ हो, लेकिन चीन को अब देश की सुरक्षा व्यवस्था पर भरोसा नहीं रहा।

डॉन न्यूज ने सीनेट रक्षा समिति के अध्यक्ष सीनेटर मुशाहिद हुसैन के हवाले से कहा, पाकिस्तान में अपने नागरिकों और उनके प्रोजेक्ट की रक्षा करने की क्षमता को लेकर चीन का भरोसा डगमगा गया है।

मुशाहिद ने पिछले महीने चीनी दूतावास में एक सीनेट प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया। इस दौरान उन्होंने कराची विश्वविद्यालय के परिसर में आत्मघाती हमले में तीन चीनी नागरिकों की मौत पर शोक व्यक्त किया।

एक साल में पाकिस्तानी सरजमीं पर चीनी नागरिकों पर यह तीसरा आतंकवादी हमला था।

उन्होंने कहा, इस आत्मघाती हमले ने चीन में आक्रोश पैदा किया है। हमले को देखते हुए यह स्पष्ट है कि पाकिस्तान के फुलप्रूफ सुरक्षा के वादे केवल शब्द मात्र ही हैं, जो जमीनी स्तर पर मेल नहीं खाते।

सुरक्षा व्यवस्था की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, अगर इस तरह के हमले जारी रहे, तो न केवल चीनी बल्कि अन्य विदेशी निवेशक पाकिस्तान की ओर से अपना मुंह मोड़ लेंगे।

सोशल मीडिया पर हमले के बाद बड़ी संख्या में चीनी कर्मियों के पाकिस्तान छोड़ने की खबरें आ रही थीं।

एक चीनी सूत्र ने इस तरह की खबरों का खंडन किया, और कहा कि चीनी नागरिक अपने परिवार वालों से मिलने या किसी अन्य कारणों से गए है। इसे पलायन के रूप में न देखें।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

Share this story