पीएफआई जैसे अन्य देश विरोधी संगठनों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए : एनएसए की उपस्थिति में अंतरधार्मिक संवाद में सर्वसम्मति से संकल्प लिया गया

पीएफआई जैसे अन्य देश विरोधी संगठनों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए : एनएसए की उपस्थिति में अंतरधार्मिक संवाद में सर्वसम्मति से संकल्प लिया गया
पीएफआई जैसे अन्य देश विरोधी संगठनों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए : एनएसए की उपस्थिति में अंतरधार्मिक संवाद में सर्वसम्मति से संकल्प लिया गया नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली में अंतरधार्मिक संवाद में सर्वसम्मति से संकल्प लिया गया कि किसी भी व्यक्ति विशेष के द्वारा चर्चा व बहस में किसी भी धर्म के देवी, देवताओं, पैगंबरों को निशाना बनाने की निंदा की जानी चाहिए और कानून के अनुसार निपटा जाना चाहिए।

साथ ही इंटरफेथ डायलॉग में आए सभी लोगों ने ²ढ़ता से अनुशंसा करते हुए बोले अगर किसी भी व्यक्ति या संगठन को किसी भीमाध्यम से समुदायों के बीच नफरत फैलाने के सबूत के साथ दोषी पाया जाता है तो कानून के प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई की जानी चाहिए।

पीएफआई और ऐसे किसी भी अन्य मोचरें जैसे संगठन, जो देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त हैं और हमारे नागरिकों के बीच कलह पैदा कर रहे हैं, उन्हें प्रतिबंधित किया जाना चाहिए और देश के कानून के अनुसार उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की जानी चाहिए। एनएसए की उपस्थिति में अंतरधार्मिक संवाद में सर्वसम्मति से संकल्प लिया गया।

--आईएएनएस

अनिल सिंह/एएनएम

Share this story