पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास की पुण्यतिथि पर लोजपा कार्यालय में लगा जमावड़ा, राज्यपाल, सीएम ने दी श्रद्घांजलि

पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास की पुण्यतिथि पर लोजपा कार्यालय में लगा जमावड़ा, राज्यपाल, सीएम ने दी श्रद्घांजलि
पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास की पुण्यतिथि पर लोजपा कार्यालय में लगा जमावड़ा, राज्यपाल, सीएम ने दी श्रद्घांजलि पटना, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के संस्थापक स्वर्गीय रामविलास पासवान की पहली पुण्यतिथि पर शुक्रवार को पटना स्थित लोजपा कार्यालय में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमें नेताओं और कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा हुआ है।

राष्ट्रीय लोकजनशक्ति पार्टी द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बिहार के राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी पहुंचे और दिवंगत नेता के तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्घांजलि दी।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर रामविलास पासवान के जीवनवृत पर आधारित प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि पिछले वर्ष आज ही के दिन पासवान जी का निधन हुआ था। हम सभीलोग उनको श्रद्घांजलि अर्पित करने के लिए यहां इकट्ठा हुए हैं।

उन्होंने कहा, उनके द्वारा किए गए कायरे को लोग याद रखेंगे। उनकी लोकप्रियता सदैव बनी रहेगी। हमारा शुरू से ही उनसे व्यक्तिगत संबंध था, अभी उनके जाने की उम्र नहीं थी, लेकिन तबियत खराब होने के कारण उनका निधन हो गया। स्वर्गीय पासवान जी के प्रति मेरे मन में आदर और सम्मान का भाव रहा है। उनके प्रति मेरी श्रद्घा रही है और सबदिन रहेगी।

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह, मंत्री मुकेश सहनी भी उपस्थित थे।

इधर, रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान द्वारा भी पिता जी की पहली पुध्यतिथि पर दिल्ली में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि चिराग पासवान ने 12 सितंबर को रामविलास की पहली बरसी के मौके पर पटना में एक कार्यक्रम आयोजित किया था। इस कार्यक्रम में हालांकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नहीं पहुंचे थे।

रामविलास पासवान के निधन के बाद लोजपा दो गुटों में बंट गई है। एक गुट का नेतृत्व जहां उनके भाई पशुपति कुमार पारस कर रहे हैं वहीं दूसरे गुट का नेतृत्व उनके पुत्र चिराग पासवान कर रहे हैं।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम

Share this story