प्रधानमंत्री के प्रति लोगों का प्यार बढ़ रहा है, कांग्रेस के प्रति नहीं : भाजपा

प्रधानमंत्री के प्रति लोगों का प्यार बढ़ रहा है, कांग्रेस के प्रति नहीं : भाजपा
प्रधानमंत्री के प्रति लोगों का प्यार बढ़ रहा है, कांग्रेस के प्रति नहीं : भाजपा नई दिल्ली, 20 जून (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के नेताओं की वर्षो से आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने को लेकर विपक्षी दल पर निशाना साधते हुए भाजपा ने सोमवार को कहा कि मोदी के लिए लोगों का प्यार उसी तरह बढ़ रहा है, जैसे विपक्ष की नफरत उनके लिए बढ़ रही है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने दावा किया कि 2007 में सोनिया गांधी की मौत का सौदागर वाली टिप्पणी से शुरू होकर हाल के वर्षो में कांग्रेस नेताओं द्वारा मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के 80 से अधिक उदाहरण हैं।

त्रिवेदी ने पूछा कि क्या कांग्रेस ने किसी को निष्कासित किया है या किसी के खिलाफ कोई अनुशासनात्मक कार्रवाई की है।

भाजपा प्रवक्ता ने यह टिप्पणी पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय के यह कहने के कुछ घंटों बाद की कि मोदी एडोल्फ हिटलर की तरह व्यवहार कर रहे हैं और अगर वह उसी रास्ते पर चलते हैं तो हिटलर की तरह मरेंगे।

सहाय और पार्टी के एक अन्य नेता शेख हुसैन की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए त्रिवेदी ने कहा कि विपक्षी दल ने प्रधानमंत्री के लिए अपनी घृणा और द्वेष में शालीनता की सभी सीमाएं पार कर ली हैं।

त्रिवेदी ने हाल के वर्षो दौरान कांग्रेस नेताओं द्वारा प्रधानमंत्री के खिलाफ की गई कई आपत्तिजनक टिप्पणियों का उल्लेख किया।

उन्होंने कहा, पिछले 15 वर्षो में क्या हुआ? मोदी के प्रति लोगों का आशीर्वाद उत्तरोत्तर बढ़ता गया और साथ ही कांग्रेस के प्रति नफरत भी बढ़ती गई। जहां लोगों का उनके प्रधानमंत्री के प्रति प्यार बढ़ रहा है, वहीं कांग्रेस के प्रति कम हो रहा है।

भाजपा नेता ने कहा कि यह कांग्रेस थी जो हिटलर जैसी मानसिकता से ग्रस्त है, क्योंकि इसके पूर्व अध्यक्ष देवकांत बरुआ ने आपातकाल के दौरान कहा था, इंडिया इज इंदिरा एंड इंदिरा इज इंडिया।

त्रिवेदी ने कहा, नाजी पार्टी के सम्मेलन में हिटलर की तुलना जर्मनी और जर्मनी की तुलना हिटलर से करते हुए इसी तरह का नारा लगाया गया था।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story