बग्गा को बचाने के लिए बीजेपी की दिल्ली और हरियाणा पुलिस ने की गैर कानूनी कार्रवाई : आप

बग्गा को बचाने के लिए बीजेपी की दिल्ली और हरियाणा पुलिस ने की गैर कानूनी कार्रवाई : आप
बग्गा को बचाने के लिए बीजेपी की दिल्ली और हरियाणा पुलिस ने की गैर कानूनी कार्रवाई : आप नई दिल्ली, 6 मई (आईएएनएस)। तेजिंदर बग्गा प्रकरण मामले में आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि बग्गा को बचाने के लिए दिल्ली और हरियाणा पुलिस की गैर कानूनी कार्रवाई से बीजेपी का असली चेहरा देश के सामने आया गया है कि वह हिंसा व दंगे करने वालों को बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है।

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता कर कहा कि दिल्ली पुलिस का पूरा इस्तेमाल करते हुए गुंडागर्दी और दंगा भड़काने का पूरा प्रयास करने के आरोपी तेजिंदर बग्गा को बचाने के लिए भाजपा ने कोई कसर नहीं छोड़ी। जबकि पंजाब पुलिस ने तेजिंदर बग्गा पर पंजाब में सांप्रदायिक हिंसा भड़काने की कोशिश करने के आरोप में केस दर्ज किया है।

उन्होनें दावा किया कि पंजाब पुलिस ने कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए तेजिंदर बग्गा को पांच बार समन भेजा, लेकिन वो जांच में शामिल नहीं हुए। इतना ही नहीं पंजाब पुलिस जब दिल्ली पुलिस को सूचना देने जनकपुरी थाने गई, तो उनको गैर कानूनी रूप से बंधक बना लिया गया।

आतिशी ने आरोप लगाते हुए कहा, भाजपा एक गुंडे और दंगाई को बचाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है, क्योंकि वो खुद हिंसा करने वालों की पार्टी है।

उन्होंने बग्गा आरोप लगाते हुए कहा, तेजिंदर बग्गा भाजपा के वही नेता हैं, जिन्होंने सुप्रीम कोर्ट के परिसर में घुसकर एक वकील पर हमला किया था। तेजिंदर बग्गा ने रामलीला मैदान के अंदर चल रहे एक कार्यक्रम में हमला किया था। उन्होंने एक किताब की लांचिंग के दौरान किताब लिखने वाले पर हमला किया था। गृह मंत्री अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा हुई थी और हिंसा करने की वजह से तेजिंदर बग्गा पर केस लगा हुआ है। तेजिंदर बग्गा के खिलाफ जनवरी 2014 में किसी के घर में जबरन घुसकर हमला करने पर आईपीसी की धारा 452 का केस लगा हुआ है। इतना ही नहीं तेजिंदर बग्गा पर दंगा भड़काने, धार्मिक विद्वेष फैलाने, धर्म-जाति और समुदाय के नाम पर महौल खराब करने का आईपीसी सेक्शन 153 के तहत केस दर्ज है। उन पर पटियाला हाउस कोर्ट में 153 में केस लगा हुआ है कि दंगा कराने की नीयत से भड़काउ भाषण देने का उन्हें दोषी करार दिया गया है। इस तरह इन पर लगे आरोपों की लिस्ट काफी लंबी है।

वहीं इस मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक और मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि बीजेपी का कहना कि यह द्वेष की राजनीति के कारण हो रहा है, बिल्कुल गलत है, भाजपा को इसलिए ऐसा लग रहा, क्योंकि वो हमेशा से स्टेट मशीनरी का दुरुपयोग करती रही है। भाजपा शासित राज्यों में विपक्षी नेताओं के घर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) व इनकम टैक्स की छापेमारी और एनआईए का समन आना आम बात है।

--आईएएनएस

पीटीके/एएनएम

Share this story