बालाकोट एयरस्ट्राइक के हीरो अभिनंदन वर्धमान वीर चक्र से सम्मानित

बालाकोट एयरस्ट्राइक के हीरो अभिनंदन वर्धमान वीर चक्र से सम्मानित
बालाकोट एयरस्ट्राइक के हीरो अभिनंदन वर्धमान वीर चक्र से सम्मानित नई दिल्ली, 22 नवंबर (आईएएनएस)। बालाकोट हवाई हमले (एयरस्ट्राइक) के नायक, ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को 27 फरवरी 2019 को हवाई युद्ध के दौरान एक पाकिस्तानी एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने के लिए सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा वीर चक्र से सम्मानित किया गया।

वर्धमान को इस महीने की शुरुआत में विंग कमांडर से ग्रुप कैप्टन के पद पर पदोन्नत किया गया था।

राष्ट्रपति द्वारा एक अलंकरण समारोह में उन्हें भारत के तीसरे सबसे बड़े युद्ध के समय के वीरता पदक वीर चक्र से सम्मानित किया गया।

बता दें कि 14 फरवरी 2019 को पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) ने पुलवामा में एक फिदायीन हमला किया था। इस हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले का मुंहतोड़ जवाब देते हुए भारतीय वायुसेना ने 26-27 फरवरी की रात पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी। कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि भारतीय सेना के हमले में सैकड़ों आतंकियों की मौत हो गई थी। इसके बाद अगले दिन ही बौखलाए पाकिस्तान की वायुसेना ने भारत में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसे खदेड़ दिया। उसी दौरान तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन उस समय मिग-21 बाइसन उड़ा रहे थे। उन्होंने इस दौरान पाकिस्तान के एफ-16 को मार गिराया था।

हालांकि बाद में अभिनंदन का विमान पाकिस्तान की सीमा में जाकर क्रैश हो गया था, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लिया था। भारत के दबाव में पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे बाद अभिनंदन को छोड़ा था और उनके भारत लौटते ही पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई थी।

पुलवामा हमले के जवाब में ही बालाकोट हवाई हमला किया गया था। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में आतंकी शिविरों के खिलाफ घातक हमले को अंजाम दिया गया था।

1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के बाद पाकिस्तान में भारत द्वारा किया गया यह पहला हवाई हमला था।

26 फरवरी, 2019 को अलसुबह लगभग 3.30 बजे 12 मिराज 2000 फाइटर जेट्स ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) को पार किया और पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के आतंकी शिविर को नष्ट कर दिया।

बालाकोट हवाई हमले ने पाकिस्तान के नापाक इरादों का जवाब देने के लिए भारत के कौशल का प्रदर्शन किया।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Share this story