बिहार उपचुनाव : राजद और जदयू में होगा दिलचस्प मुकाबला, बिखरे विपक्ष से राजग को बढ़त मिलने की आस

बिहार उपचुनाव : राजद और जदयू में होगा दिलचस्प मुकाबला, बिखरे विपक्ष से राजग को बढ़त मिलने की आस
बिहार उपचुनाव : राजद और जदयू में होगा दिलचस्प मुकाबला, बिखरे विपक्ष से राजग को बढ़त मिलने की आस पटना, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)। बिहार में दो सीटों कुशेश्वरस्थान और तारापुर विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव को लेकर राज्य में राजनीतिक सरगर्मी तेज है। इस चुनाव में विपक्षी दलों के महागठबंधन के प्रमुख घटक दल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस ने अपने-अपने प्रत्याशी उतार दिए हैं तो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की ओर से जदयू के प्रत्याशी ताल ठोंक रहे हैं। सांसद चिराग पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) भी अपने योद्घा चुनावी रण में उतार दिए हैें।

वैसे, शुक्रवार को नामांकन की अंतिम तारीख है लेकिन अब तक जो तस्वीर उभरकर सामने आई है, उसमें मुख्य मुकाबला राजद और जदयू के बीच माना जा रहा है।

इस चुनाव में राजद और जदयू दोनों संशय की स्थिति में है। राजद और कांग्रेस के अलग-अलग उम्मीदवार होने से महागठबंधन के वोटरों में संशय की स्थिति है जबकि जदयू को भी चिराग के प्रत्याशी उतार देने के बाद वोट कटने का डर सता रहा है। वैसे, राजग के उम्मीदवार को बिखरे महागठबंधन से बढ़त मिलने की उम्मीद है।

राजग और राजद दोनों अपने-अपने जीत के दावे कर रहे हैं, लेकिन दोनों के लिए राह इतनी आसान नहीं है। वैसे, अभी दोनों विधानसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों को लेकर तस्वीर लगभग साफ होती भले दिख रही हो लेकिन मतदाता अभी चुप्पी साधे हुए हैं। माना जा रहा है कि मतदान के दिन नजदीक आने के बाद मतदाता अपनी राय स्पष्ट कर सकेंगे।

कुशेश्वरस्थान से जदयू ने दिवंगत विाायक शशिभूषण हजारी के पुत्र अमन हजारी को उम्मीदवार बनाया है जबकि कांग्रेस ने पूर्व विाायक और पार्टी के वरिष्ठ नेता ड अशोक कुमार के बेटे अतिरेक कुमार को मैदान में उतारा है। राजद गणेश भारती पर दांव आजमा रही है तो लोजपा (रामविलास) ने महिला अंजू देवी को मैदान में उतारकर महिलाओं को आकर्षित करने के प्रयास में है।

माना जाता है कि तारापुर विधानसभा सीट में चुनाव परिणाम कुशवाहा और वैश्य जाति के मतदाता करते हैं। ऐसे में सभी पार्टियों की नजर इन मतदाताओं पर टिकी है। जदयू ने कुशवाहा जाति से आनेवाले राजीव कुमार सिंह को टिकट थमाया है तो राजद अरूण कुमार साह के जरिए राजग के वैश्य मतदाताओं में सेंध लगाने की कोशिश करेगी। कांग्रेस ने राजीव मिश्रा पर दांव लगाया है तो लोजपा (रामविलास) ने चंदन सिंह को चुनावी मैदान में उतार दिया है।

इस चुनाव को लेकर सभी पार्टियों के अपने पक्ष में दावे हैं, लेकिन इस चुनाव में जदयू की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। पिछले वर्ष हुए चुनाव में दोनों सीटों कुशेश्वरस्थान और तारापुर में जदयू के उम्मीदवार जीते थे। वैसे, इस चुनाव में मुख्य मुकबला जदयू और राजद के बीच माना जा रहा है।

इन दोनों विधानसभा क्षेत्रों में 30 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे, जबकि दो नवंबर को परिणाम घोषित होगा। प्रत्याशी आठ अक्टूबर तक नामांकन का पर्चा दाखिल कर सकते हैं।

--आईएएनएस

एमएनपी/आरजेएस

Share this story