बीपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र छाप रहे थे नकली नोट, हुए गिरफ्तार

बीपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र छाप रहे थे नकली नोट, हुए गिरफ्तार
पटना, 23 मई (आईएएनएस)। रिजर्व बैंक इंडिया ने जहां देशभर में 2000 रुपये के नोट पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है, वहीं दूसरी ओर बिहार की राजधानी पटना में पुलिस ने नकली नोट छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है।

इस गिरोह में ऐसे छात्र भी हैं जो प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं।

पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एसके पुरी थाना क्षेत्र में नकली नोट छापने का काम चल रहा है। इसी सूचना के आधार पर पुलिस ने पश्चिम आनंदपुरी स्थित एक अपार्टमेंट के एक फ्लैट में छापेमारी की।

पुलिस की आने की भनक लगते ही तीन से चार लोग तो खिड़की से कूदकर भागने में सफल रहे लेकिन दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने यहां से 1.80 लाख रुपए के नकली नोट, शराब की कई बोतलें और प्रिंटर सहित कई सामान बरामद किए हैं। सभी नोट 500 और 200 के हैं। यहां से कई किताबें भी बरामद की गई है। पकड़े गए युवकों ने बताया कि वे बीपीएससी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी भी कर रहे हैं।

गिरफ्तार हुए युवकों की पहचान अयूब खान (कटिहार) और रतन यादव (नवादा) के रूप में की गई है।

पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने बताया कि पकड़े गए लोगों से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने आशंका जताते हुए बताया कि इनकी पहचान शराब माफियाओं से भी लग रही है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

--आईएएनएस

एमएनपी/एसकेपी

Share this story