बूथ कमेटी के सदस्यों को बदलेगी दिल्ली बीजेपी

बूथ कमेटी के सदस्यों को बदलेगी दिल्ली बीजेपी
बूथ कमेटी के सदस्यों को बदलेगी दिल्ली बीजेपी नई दिल्ली, 9 मई (आईएएनएस), दिल्ली बीजेपी ने बूथ समिति से गायब हो गए सदस्यों को बदलने का फैसला किया है। बीजेपी की शहर इकाई ने लगभग 50 प्रतिशत गायब सदस्यों के गायब हो जाने के बाद बाकी सदस्यों का फिजिकल वेरीफिकेशन शुरू कर दिया है।

पिछले महीने, आईएएनएस ने बताया था कि दिल्ली बीजेपी 1 मई से अपने बूथ समिति के सदस्यों से जुड़ने में विफल रहने के बाद 45-दिवसीय फिजिकल वेरीफिकेशन अभियान शुरू करेगी।

1 मई से अभियान के तहत पार्टी के सदस्य 13,789 मतदान केंद्रों के प्रत्येक सदस्य का फिजिकल वेरीफिकेशन कर रही है।

इस प्रकिया से अवगत भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने आईएएनएस से कहा, आठ दिनों के प्रचार के बाद, यह पार्टी के संज्ञान में आया है कि कुछ सदस्य अभी भी उपलब्ध नहीं हैं। बूथ कमेटी के सभी सदस्यों से संपर्क ना कर पाने के पीछे कई कारण हैं। उन तक पहुंचने में दिक्कत होने के कारण उन्हें नए लोगों से बदलने का फैसला किया गया है।

पता चला है कि जिला इकाइयों को सत्यापन अभियान के साथ जल्द से जल्द और अगर संभव हो तो बदलने की प्रक्रिया को पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।

दिल्ली बीजेपी के तीन महासचिवों -- कुलजीत सिंह चहल, हर्ष मल्होत्रा और दिनेश प्रताप सिंह को शहर भर में बूथ कमेटी के सदस्यों का फिजिकल वेरीफिकेशन को पूरा करने की जिम्मेदारी दी गई है। इन तीन वरिष्ठ पदाधिकारियों को 13,000 से अधिक बूथ समितियों के सदस्यों और पन्ना प्रमुख (मतदाता सूची के एक पेज के प्रमुख) के भौतिक सत्यापन की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, भौतिक सत्यापन के दौरान समिति के कुछ सदस्यों का पता लगा लिया गया है, और वो संगठनात्मक कार्यो में सक्रिय हैं।

साथ ही उन्होंने ये भी कहा, पहुंच से बाहर बूथ समिति के सदस्यों में से, हम कुछ से संपर्क करने में सक्षम थे, लेकिन कुछ तक पहुंचने में असफल रहे। बूथ समिति के नए सदस्य लापता लोगों की जगह लेंगे।

--आईएएनएस

एसकेपी

Share this story