मध्य प्रदेश : भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे, कांग्रेस और भाजपा के बीच छिड़ी जुबानी जंग

मध्य प्रदेश : भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे, कांग्रेस और भाजपा के बीच छिड़ी जुबानी जंग
मध्य प्रदेश : भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे, कांग्रेस और भाजपा के बीच छिड़ी जुबानी जंग भोपाल, 25 नवंबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के खरगोन जिले से जब शुक्रवार को राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा गुजर रही थी तब किसी व्यक्ति ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायल हो गया। इसके बाद कांग्रेस और सत्तारूढ़ भाजपा के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई।

कांग्रेस ने कहा कि वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर सोशल मीडिया पर वायरल करके भारत जोड़ो यात्रा की छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है। तो वहीं दूसरी ओर भाजपा ने कहा कि वीडियो क्लिप कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर अपलोड की गई थी।

वीडियो में देखा जा सकता है कि जब राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा सैकड़ों पार्टी के नेताओं और समर्थकों के साथ मार्च कर रहे थे तब पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा सुनाई दे रहा था।

मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में खरगोन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे। इसने देश को बांटने की कांग्रेस की मानसिकता को फिर से उजागर कर दिया है। बार-बार यह साबित हो रहा है कि यह भारत जोड़ो यात्रा नहीं भारत बांटो यात्रा है।

इसके अलावा बीजेपी नेता ने राहुल गांधी को इस हरकत के लिए देश से माफी मांगने को कहा है। उधर, कांग्रेस ने इसे भाजपा के द्वारा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को बदनाम करने की साजिश करार दिया है। कांग्रेस महासचिव एवं संचार प्रभारी जयराम रमेश ने कहा कि बीजेपी के द्वारा छेड़छाड़ करके बनाया गया वीडियो भारत जोड़ो यात्रा को बदनाम करने के लिए घूम रहा है। हम तत्काल कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं।

वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस मामले का संज्ञान लिया है। सीएम शिवराज ने कहा है कि भारत जोड़ो यात्रा में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारों से भारत को एकजुट करना है या भारत को विभाजित करने वालों को एकजुट करना है? क्या भारत को फिर से बांटने की मंशा है? नारे लगाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता अब्बास हफीज ने कहा कि यह राहुल गांधी को निशाना बनाने की भाजपा की कोशिश थी। अगर यह सच है कि एक व्यक्ति ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया? पुलिस को उस व्यक्ति को तत्काल गिरफ्तार करना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ क्यों? इस तरह की हरकत ने मध्य प्रदेश में राहुल गांधी और भारत जोड़ो यात्रा को दी गई सुरक्षा की भी पोल खोल दी

गौरतलब है कि इस साल अप्रैल के महीने में खरगोन सांप्रदायिक दंगे हुए थे। जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और 20 से अधिक लोग घायल हुए थे। इस घटना के संबंध में पुलिस ने 200 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था।

--आईएएनएस

एफजेड/एएनएम

Share this story