मप्र में बिजली संकट, सरकार झूठे आंकड़ों के सहारे : कमल नाथ

मप्र में बिजली संकट, सरकार झूठे आंकड़ों के सहारे : कमल नाथ
मप्र में बिजली संकट, सरकार झूठे आंकड़ों के सहारे : कमल नाथ भोपाल, 27 अप्रैल (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में गहराते बिजली संकट को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि शहरी और ग्रामीण इलाकों में अघोषित कटौती जारी है और सरकार झूठे आंकड़े परोसने में लगी है।

कमल नाथ ने कहा, मध्यप्रदेश में दिन-प्रतिदिन बिजली का संकट गहराता जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति भयावह होती जा रही है, शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में अघोषित बिजली कटौती जारी है।

उन्होंने आगे कहा, कई-कई घंटे बिजली गायब है, जिससे भीषण गर्मी के इस दौर में जनता परेशान हो रही है, पानी का भी संकट गहराता जा रहा है।

बिजली संयंत्रों के सामने आ रहे कोयला संकट का जिक्र करते हुए कमल नाथ ने कहा, प्रदेश में कोयले की कमी के कारण बिजली उत्पादन भी प्रभावित हो रहा है लेकिन सरकार सच्चाई स्वीकारने को तैयार नहीं है। अभी भी झूठे आंकड़े पेश कर बिजली संकट, जल संकट और कोयले के संकट को नकारा जा रहा है।

कमल नाथ ने सरकार से राहत देने वाले कदम उठाने का जिक्र करते हुए कहा, सरकार इस दिशा में तत्काल आवश्यक सभी कदम उठाकर जनता को राहत प्रदान करे और प्रदेश की जनता को कोयला संकट, बिजली की मांग व आपूर्ति एवं जलसंकट पर वास्तविकता व सच्चाई बताये।

--आईएएनएस

एसएनपी/एसकेपी

Share this story