मप्र में भाजपा ने उप-चुनाव की तैयारी तेज की

मप्र में भाजपा ने उप-चुनाव की तैयारी तेज की
मप्र में भाजपा ने उप-चुनाव की तैयारी तेज की भोपाल, 15 सितम्बर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के तीन विधानसभा और एक लोकसभा क्षेत्र में होने वाले उप चुनाव की तारीख का ऐलान भले ही न हुआ हो मगर सियासत तेज हो चली है। भाजपा ने इन उप-चुनावों के लिए जमीनी तैयारी को रफ्तार दे दी है। यही कारण है कि संगठन से लेकर सत्ता से जुड़े लोग इन इलाकों में सक्रिय हैं।

राज्य में तीन विधानसभा क्षेत्र सतना जिले के रैगांव, निवाड़ी के पृथ्वीपुर और अलिराजपुर के जोबट में उपचुनाव है, इसी तरह खंडवा लोकसभा क्षेत्र में भी उप चुनाव प्रस्तावित हैं। इन चारों स्थानों पर उपचुनाव के लिए फिलहाल तारीखों का ऐलान तो नहीं हुआ है मगर संभावना यही जताई जा रही है कि निकट भविष्य में कभी भी तारीखों का ऐलान हो सकता है, यही कारण है कि सियासत उपचुनाव को लेकर तेज है।

प्रदेष में जिन चार स्थानों पर उप-चुनाव है उनमें से दो स्थानों जोबट व पृथ्वीपुर में कांग्रेस के विधायक रहे हैं, तो रैगांव से भाजपा विधायक और खंडवा से भाजपा का सांसद रहा है। इन चारों स्थानों पर जनप्रतिनिधियों के निधन के कारण उप-चुनाव प्रस्तावित है।

इन उप चुनाव की तैयारियों पर गौर करें तो भाजपा संगठन की ओर से प्रभारियों के अलावा सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर मंत्रियों को भी जिम्मेदारी सौंपी जा चुकी है। सत्ता और संगठन से जुड़े लोग इन इलाकों में लगातार सक्रिय हैं। भाजपा की प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा भी कई क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं तो वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनदर्शन कार्यक्रम के तहत इन क्षेत्रों के लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने अभी हाल ही में सतना के रैगांव और निवाड़ी के पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र के कई गांव में जनदर्शन कार्यक्रम किए और लोगों को भरोसा दिलाया कि सरकार हर वर्ग का कल्याण करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी, इतना ही नहीं जिन अधिकारियों के खिलाफ गड़बड़ी की शिकायत मिली उन्हें भरे मंच से ही निलंबित करने का आदेश दे दिया।

राज्य में भाजपा का संगठन और सरकार के लोग मिलकर काम करने की कोशिश कर रहे हैं ताकि जनता के बीच सरकार और संगठन की बेहतर छवि बने। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा भी मानते हैं कि राज्य में संगठन और सरकार का बेहतर समन्वय है, इस समन्वय के आधार पर सरकार के अभियान कार्यकर्ताओं के परिश्रम से सफल हो रहे हैं। राज्य में सरकार ने वैक्सीनेशन महाभियान के दो चरणों में ऐतिहासिक सफलता हासिल की है। इस सफलता के पीछे पार्टी के कार्यकतार्ओं का कठोर परिश्रम शामिल है।

वहीं कांग्रेस शिवराज सिंह चौहान के आक्रमक हुए तेवरों पर तंज कस सकती है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अजय सिंह यादव का कहना है कि मुख्यमंत्री चौहान सिर्फ नाटक नौटंकी करने में भरोसा करते हैं। उनके द्वारा जनदर्शन कार्यक्रम में नौटंकी की गई और जनता की आंखों में धूल झोंकने के लिए अधिकारियों पर कार्रवाई की गई। उन्होंने पृथ्वीपुर में प्रधानमंत्री आवास में गड़बड़ी की बात पर अधिकारियों को निलंबित किया है अगर प्रदेश में इस तरह की कार्यवाही होने लगी तो पूरे प्रदेश में एक भी सीएमओ व तहसीलदार नहीं बचेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि पूरे प्रदेश में एक भी नगर पालिका और नगर पंचायत ऐसी नहीं है जहां प्रधानमंत्री आवास योजना में भ्रष्टाचार न हुआ हो, प्रधानमंत्री आवास के नाम पर बंदरबांट न हुई हो।

राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो आगामी समय में होने वाले विधानसभा और लोकसभा के उपचुनाव राज्य की सियासत के तौर पर महत्वपूर्ण है। इन चुनावों में जीत दर्ज करना भाजपा के लिए महत्वपूर्ण है, वहीं कांग्रेस भी इन चुनावों में गंभीरता से ले रहेगी। कुल मिलाकर इन चुनावों के नतीजे वर्ष 2024 में होने वाले विधानसभा के चुनाव पर बड़ा असर डालने वाले होंगे।

--आईएएनएस

एसएनपी/एएनएम

Share this story